New Education Policy 2020: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) शुक्रवार 11 सितंबर को राष्ट्रीय शिक्षा नीति- 2020 (NEP 2020) के तहत 21वीं सदी में स्कूली शिक्षा विषय पर एक सभा को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित करेंगे. शिक्षा मंत्रालय, शिक्षा पर्व के एक हिस्से के रूप में 10 और 11 सितंबर को दो दिवसीय सम्मेलन का आयोजन कर रहा है. इसी कार्यक्रम को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी संबोधित करेंगे. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 7 अगस्त को ‘एनईपी- 2020 (New Education Policy) के तहत उच्च शिक्षा में परिवर्तनकारी सुधार’ कार्यक्रम में उद्घाटन भाषण दिया था. पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने 7 सितंबर को एनईपी- 2020 (NEP 2020) पर राज्यपालों के सम्मेलन को भी संबोधित किया है.Also Read - DDE Corridor: दिल्ली से देहरादून सिर्फ 2.30 घंटे में, मेरठ से लेकर हरिद्वार तक चमकेगी बीच के शहरों की सूरत

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय (Ministry of Education) ने आधिकारिक जानकारी देते हुए कहा, “एनईपी- 2020 (NEP 2020) इक्कीसवीं सदी की पहली शिक्षा नीति है, जिसे पिछली राष्ट्रीय शिक्षा नीति 1986 के 34 वर्षो के बाद घोषित किया गया है. एनईपी-2020 में स्कूली और उच्च शिक्षा दोनों स्तर पर बड़े सुधारों के लिए निर्देश दिया गया है.” शिक्षा मंत्रालय ने कहा, “नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (New Education Policy) का उद्देश्य भारत को एक न्यायोचित और ज्ञान आधारित उद्योगी समाज बनाना है. इसमें भारत केंद्रित शिक्षा प्रणाली को लागू करने की सोच है, जो देश को वैश्विक महाशक्ति में बदलने में सीधे योगदान करेगा. एनईपी-2020 (NEP 2020) में देश में स्कूली शिक्षा में व्यापक सुधार की बात है. Also Read - Covid-19 New Variant Omicron: नए वैरिएंट ने मचाई दहशत, पीएम मोदी की अहम बैठक, सतर्कता बरतने का दिया निर्देश

स्कूल स्तर पर 8 वर्ष की आयु तक के बच्चों के लिए बचपन देखभाल और शिक्षा (ईसीसीई) के सार्वजनिकरण, स्कूल पाठ्यक्रम की 10 प्लस 2 संरचना को 5 प्लस 3 प्लस 3 प्लस 4 पाठ्यचर्या संरचना में बदलने, 21वीं सदी के कौशल, गणितीय सोच और वैज्ञानिक रुझान के पाठ्यक्रम को एकीकृत करने, स्कूली शिक्षा के लिए नए व्यापक राष्ट्रीय पाठ्यक्रम के ढांचे का विकास करने, शिक्षकों के लिए राष्ट्रीय पेशेवर मानक तैयार करने, मूल्यांकन सुधार और बच्चे की 360 डिग्री समग्र प्रगति कार्ड, और कक्षा 6 के बाद से व्यावसायिक एकीकरण पर जोर दिया जा रहा है.” शिक्षकों को सम्मानित करने और नई शिक्षा नीति 2020 (New Education Policy) को आगे बढ़ाने के लिए 8 सितंबर से 25 सितंबर, 2020 तक शिक्षा पर्व मनाया जा रहा है. देशभर में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 (New Education Policy) के अलग-अलग पहलुओं पर वेबिनार, वर्चुअल सम्मेलन और सभाएं आयोजित की जा रही हैं. Also Read - Farm Laws Repealed: हरियाणा के सीएम खट्टर ने की पीएम मोदी से मुलाकात, MSP पर कह दी बड़ी बात