नई दिल्ली: JEE, NEET और UGC NET परीक्षा की तैयारी के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है. इन परीक्षाओं में सफलता इस बात पर निर्भर करती है कि उसने परीक्षा की तैयारी कैसी की है और उसके लिए तैयार रणनीति कितनी कारगर है. लेकिन इसके अलावा यह भी बात भी महत्वपूर्ण है कि छात्रों को परीक्षा के लिए मार्गदर्शन कैसा मिला है, जो आमतौर पर कोचिंग देते हैं. लेकिन कोचिंग का मार्गदर्शन और तैयारी की रणनीति पाने के लिए छात्रों को बड़ी कीमत चुकानी पड़ती है. शायद यही वजह है कि कम ही गरीब छात्र JEE और NEET जैसी परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग में दाखिले का साहस नहीं जुटा पाते.

अगर आप भी ऐसे छात्रों या अभिभावकों में शामिल हैं तो सरकार के नये फैसले से आपको जाहिर तौर पर खुशी होगी. सरकार ने फैसला किया है कि अब वह JEE, NEET और UGC NET की तैयारी नि:शुल्क कराएगी. सरकारी एजेंसी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी अगले साल अपने 2,697 टेस्ट प्रैक्टिस सेंटर्स को टीचिंग सेंटर या यूं कहें कि कोचिंग सेंटर में बदलने वाली है.

Odisha Civil Services Exam 2018: नोटिफिकेशन जारी, 3 सितंबर से रजिस्ट्रेशन शुरू

HRD मंत्रालय के अनुसार 8 सितंबर से प्रैक्टिस सेंटर्स का काम शुरू हो जाएगा. नि:शुल्क कोचिंग प्रदान करने की योजना के तहत छात्रों को सिर्फ टेस्ट की प्रैक्टिस ही नहीं कराई जाएगी, बल्कि यह पूरी तरह से टीचिंग सेंटर होगा. सबसे अच्छी बात यह होगी कि इस सेवा कि लिए छात्रों को कोई फीस नहीं देनी होगी. इस योजना से उन छात्रों को सबसे ज्यादा लाभ होगा जो, आर्थिक परेशानियों के कारण प्राइवेट कोचिंग सेंटर्स में दाखिला नहीं ले पाते.

इस कदम से ग्रामीण और अर्ध-शहरी उम्मीदवारों को भी लाभ होगा. इन सरकारी सेंटर्स में मई 2019 से पढ़ाई शुरू हो जाएगी. सबसे पहले NTA उन उम्मीदवारों का मॉक टेस्ट लेगा जो आने वालेे ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन-मेन्स(JEE-Main) 2019 में हिस्सा लेने वाले हैं.

Maharashtra SSC 10th Supplementary Results 2018: नतीजे घोषित, ऐसे चेक करें

जिन उम्मीदवारों ने NTA के साथ ऑनलाइन या मोबाइल के जरिये रजिस्टर किया है वह नेशनल एलिजिबिलिटी एंट्रेंस टेस्ट-UG (NEETUG) और UGC-NET के मॉक टेस्ट में हिस्सा ले सकते हैं. इसके बाद NTA के मेंटर या शिक्षक उनकी उत्तर पुस्तिकाओं का अध्ययन करेंगे और छात्रों को उनकी कमियों के बारे में बताएंगे और उनका मार्गदर्शन करेंगे.

लेकिन इसके लिए उम्मीदवारों को मोबाइल ऐप या NTA की ऑफिशियल वेबसाइट से टेस्ट प्रैक्टिस सेंटर में टेस्ट स्लॉट के लिए रजिस्टर करना होगा. सिर्फ रजिस्टर्ड उम्मीदवारों को ही टेस्ट में बैठने का मौका मिलेगा. रिजल्ट जारी होने के बाद शिक्षक गलतियों और कॉन्सेप्ट के बारे में बताएंगे.

RRB ALP 2014 Replacement Results: rrbald.gov.in पर रीप्लेसमेंट रिजल्ट जारी, ऐसे चेक करें

मानव संसाधन एवं विकास मंत्रालय के अनुसार अभी के लिए सिर्फ JEE Main के उम्मीदवारों को मॉक टेस्ट के लिए बुलाया जाएगा. इस साल NEET-UG परीक्षा ऑनलाइन नहीं हो रही है, इसलिए इस साल इसका मॉक टेस्ट नहीं हो सकेगा. मॉक टेस्ट के लिए 1 सितंबर से रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू करने के लिए NTA जल्द ही मोबाइल एप्लीकेशन और वेबसाइट लॉन्च करने वाली है.

1 सितंबर से ही UGC-NET 2018 और JEE-Main दोनों के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएगा. उम्मीदवार रजिस्ट्रेशन 30 सितंबर तक रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे. एनटीए के मोबाइल एप्लीकेशन से उम्मीदवार आसपास के परीक्षा केंद्रोें का पता लगा सकेंगे.

एजुकेशन और करियर की अन्य खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.