Primary School Reopening News: कोरोना संकट के बीच बीते 10 महीनों से बंद स्कूलों को अब धीरे-धीरे दोबारा से खोला जा रहा है. इस बीच पंजाब के स्कूली शिक्षा विभाग ने 27 जनवरी से राज्य के सभी स्कूलों (Punjab School Reopening News) में प्राथमिक कक्षाओं का संचालन शुरू करने का फैसला लिया है. राज्य में 5वीं से 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए स्कूल इस महीने की शुरुआत में ही खुल चुके हैं.Also Read - Haryana School Timing Change: हरियाणा में स्कूलों का बदला समय, जानें 1 मार्च से क्या होगी नई टाइमिंग

शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने एक बयान में कहा, ‘अभिभावकों की मांग पर सरकार ने 27 जनवरी से सभी स्कूलों में प्राथमिक कक्षाएं शुरू करने का फैसला लिया है.’ मंत्री ने कहा कि तीसरी और चौथी कक्षा के छात्रों को 27 जनवरी से स्कूल आने की अनुमति होगी. वहीं पहली और दूसरी कक्षा के छात्रों के लिए स्कूल एक फरवरी से खुलेंगे. Also Read - Haryana School News: हरियाणा में 10 फरवरी से खुलेंगे पहली से 9वीं तक के स्कूल, जानें क्या है पूरा फैसला

सभी स्कूलों में कक्षाएं सुबह 10 बजे से अपराह्न 3 बजे लगेंगी और बच्चों को स्कूल भेजने से पहले अभिभावकों को लिखित सहमति देनी होगी. सिंगला ने स्कूल प्रबंधनों को कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत समुचित इंतजाम करने को कहा है. Also Read - Delhi School News: कोरोना के मामलों में कमी आने के बाद दिल्ली में सोमवार से 9वीं से12वीं कक्षा के लिए खुलेंगे स्कूल

वहीं, दूसरी तरफ हरियाणा में कक्षा 6 से 8वीं तक के विद्यार्थियों के लिए फरवरी के पहले सप्ताह में स्कूलों को खोले जाने का फैसला (Haryana Me School Kab Khulenge) लिया गया है. राज्य के शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने बुधवार को यह जानकारी दी.

शिक्षा मंत्री ने यहां कहा, ‘कोविड के मामले धीरे-धीरे कम हो रहे हैं और स्थिति में सुधार हुआ है. इसके अलावा, कोविड-19 टीकाकरण अभियान भी शुरू हो गया है. इसलिए, हमने फरवरी के पहले सप्ताह से कक्षा 6 से 8वीं के लिए स्कूलों को फिर से खोलने का फैसला किया है.’

उन्होंने बताया कि पहली से पांचवीं तक की कक्षाओं को शुरू करने पर बाद में फैसला लिया जाएगा. उन्होंने बताया कि स्कूलों को मास्क, सैनिटाइजर और सोशल डिस्टेंसिंग बनाये रखने के संबंध में सभी दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा. कोविड-19 महामारी के कारण छह महीनों तक बंद रहने के बाद हरियाणा में स्कूलों को 9वीं कक्षा से 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए सितंबर के मध्य में आशिंक रूप से खोला गया था.

(इनपुट: भाषा)