गांधीनगर: कोविड-19 महामारी के चलते मार्च से बंद पड़े स्‍कूलों और कॉलेजों को गुजरात में फिर से खोलने Reopen करने की तैयारी शुरू हो गईं हैं. राज्‍य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी द्वारा नौवीं और 12वीं के स्कूल और कॉलेजों को फिर से खोलने के लिए शिक्षा विभाग को तैयारी करने के निर्देश जारी किए. इसके बाद शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह चूड़ासमा ने शिक्षा विभाग अधिकारियों के साथ बैठक की है.Also Read - पोर्ट से 1 बिलियन डॉलर की कोकीन जब्‍ती की हेडलाइन नहीं दिखी, लेकिन 1.30 लाख की चरस-गांजा नेशनल न्‍यूज बन गई: जावेद अख्तर

सूत्रों के अनुसार, यह माना जा रहा है कि दीपावली त्योहार के बाद कॉलेजों और स्कूलों को फिर से खोला जा सकता है. महामारी के कारण छात्रों को स्कूल गए 7 महीने हो चुके हैं. Also Read - गुजरात : पथरी निकलवाने गए मरीज की डॉक्टर ने किडनी निकाल दी, अब अस्पताल देगा 11.2 लाख का मुआवजा

गुजरात के शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह चूड़ासमा ने गुरुवार को कहा कि उचित मानक संचालन प्रक्रिया को ध्यान में रखते हुए राज्य में स्कूल और कॉलेज जल्द ही खोले जाएंगे. चूड़ासमा ने कहा, “गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी द्वारा नौवीं और 12वीं के स्कूल और कॉलेजों को फिर से खोलने के लिए शिक्षा विभाग को तैयारी करने के निर्देश जारी करने के बाद, आज (गुरुवार) मैंने विभाग के उच्चाधिकारियों के साथ एक बैठक की. मैंने अधिकारियों को शिक्षा जारी रखने के लिए एक एसओपी तैयार करने के निर्देश दिए हैं.” उन्होंने कहा, “इसी तरह हम एक या दो दिनों के भीतर ही विश्वविद्यालयों के कुलपतियों (वीसी) के साथ चर्चा करेंगे और कॉलेजों में शिक्षा जारी रखने के तरीके पर काम करेंगे.” Also Read - Mumbai: ईद-ए-मिलाद पर सभी जुलूस प्रतिबंधित, सिर्फ दो जुलूस को 5-5 ट्रकों के साथ निकालने की अनमुति, देखें गाइडलाइंस

शिक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि कॉलेजों में शिक्षा जारी रखी जा सकती है, क्योंकि इनमें पढ़ने वाले छात्र इतने समझदार हैं कि वे कोविड-19 के दिशानिर्देशों का पालन कर लेंगे. उन्होंने कहा, “जैसे ही एसओपी तैयार होता है, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल, मैं और शिक्षा विभाग इस महामारी के समय में स्कूलों और कॉलेजों में शिक्षा कब और कैसे शुरू की जाए, इस पर फैसला करेंगे.”

प्रदेश के शिक्षा मंत्री ने कहा, “एक महीने पहले मैंने घोषणा की थी कि हम मई 2021 में कक्षा दसवीं और 12वीं के लिए बोर्ड परीक्षा आयोजित करेंगे. इसलिए छात्रों के पास इन परीक्षाओं के लिए फॉर्म भरने के लिए पर्याप्त समय होगा. हम स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ समन्वय में काम कर रहे हैं, ताकि महामारी के बारे में हर सावधानी बरती जा सके.” शिक्षा मंत्री चूड़ासमा ने यह भी कहा कि कुछ दिनों के भीतर प्राथमिक स्कूलों में संचालन शुरू करने के लिए भी विचार-विमर्श किया जाएगा.