Sarkari Naukri: राजस्थान सरकार ने विभिन्न महाविद्यालयों में 51 नये पद सृजित करने को मंजूरी दी है. इसके साथ ही नवसृजित सेशन न्यायालय जयपुर महानगर-द्वितीय और अपर जिला व सेशन न्यायालय मकराना (नागौर) तथा महुआ (दौसा) में विभिन्न नवीन पद सृजित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है. Also Read - बागियों के खिलाफ कांग्रेस विधायकों की नाराजगी स्वभाविकः गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस आशय के प्रस्तावों को मंजूरी दी है. इसके अनुसार उद्यानिकी व वानिकी महाविद्यालय झालावाड़ में प्रोफेसर के तीन, एसोसिएट प्रोफेसर के चार तथा असिस्टेंट प्रोफेसर के 13, सेक्शन आफिसर, लैब टेक्नीशियन, स्टेनोग्राफर, स्टोरकीपर, सहायक पुस्तकालयाध्यक्ष के एक-एक पद के सृजन को मंजूरी दी है. Also Read - बागी विधायकों का दिल जीतने की कोशिश करेंगे अशोक गहलोत, बोले- यह मेरी जिम्मेदारी है

उन्होंने कृषि महाविद्यालय उम्मेदगंज कोटा में प्रोफेसर के दो, एसोसिएट प्रोफेसर के पांच, असिस्टेंट प्रोफेसर के नौ, सेक्शन आफिसर, लैब टेक्नीशियन, लाइब्रेरी असिस्टेंट व एग्रीकल्चर सुपरवाइजर के एक-एक तथा लैब असिस्टेंट तथा एलडीसी के दो-दो पदों के सृजन को मंजूरी दी है. मुख्यमंत्री की इस स्वीकृति से इन महाविद्यालयों में शैक्षणिक गतिविधियों का सुचारू संचालन हो सकेगा. Also Read - Rajasthan Political Crisis Ends: राजस्थान की राजनीति का पटाक्षेप, सचिन पायलट ने कहा- पद नहीं रखता कोई मायने

प्रस्ताव के अनुसार नवसृजित सेशन न्यायालय जयपुर महानगर-द्वितीय में अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी, लिपिक एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के एक-एक पद तथा नवसृजित अपर जिला व सेशन न्यायालय मकराना (नागौर) तथा महुआ (दौसा) में लिपिक ग्रेड-प्रथम के एक-एक पद के सृजन की मंजूरी दी है. साथ ही नवसृजित सेशन न्यायालय जयपुर महानगर-द्वितीय में निश्चित रिटेनरशिप पर लोक अभियोजक एवं राजकीय अभिभाषक के एक पद के सृजन को मंजूरी दी गई है.