Rajasthan RSMSSB Recruitment 2021: राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड (RSMSSB) ने फॉरेस्ट गार्ड और फॉरेस्टर के पदों पर आवेदन करने की कल यानी 22 जनवरी शुक्रवार को आखिरी तारीख है. उम्मीदवार जो अभी तक इन पदों के लिए आवेदन नहीं किए हैं, वे RSMSSB की आधिकारिक वेबसाइट rsmssb.rajasthan.gov.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. इससे पहले आवेदन करने की अंतिम 7 जनवरी थी, जिसे बढ़ाकर 22 जनवरी किया गया था.Also Read - Gujarat Anganwadi Recruitment: आंगनबाड़ी में आई 10वीं पास के लिए भर्तियां, जिन उम्‍मीदवारों को मिली नौकरी, उनकी डिग्री कर देगी हैरान

इसके अलावा उम्मीदवार सीधे इस लिंक https://sso.rajasthan.gov.in/signin पर क्लिक करके आवेदन कर सकते हैं. साथ ही इस लिंक https://recruitment.rajasthan.gov.in/postdetailsservlet के जरिए आधिकारिक नोटिफिकेशन भी देख सकते हैं. फॉरेस्ट गार्ड के पदों के लिए कुल 1041 रिक्तियां हैं और फॉरेस्टर के पदों के लिए 87 रिक्तियां हैं. Also Read - WB Madhyamik Result 2022: पश्‍च‍िम बंगाल कक्षा 10वीं के पर‍िणाम को लेकर आया बड़ा अपडेट, जानें कहां और कब आएगा रिजल्‍ट

Rajasthan RSMSSB Recruitment 2021 के लिए महत्वपूर्ण तिथियाँ Also Read - Indian Bank SO Recruitment 2022: इंडियन बैंक में ग्रेजुएट्स के लिए बंपर वैकेंसी, 76100 तक होगी सैलरी

ऑनलाइन आवेदन करने की तिथि: 08 दिसंबर 2020
ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि: 22 जनवरी 2021

Rajasthan RSMSSB Recruitment 2021 के लिए योग्यता मापदंड

फॉरेस्ट गार्ड – उम्मीदवार को देवनागरी लिपि हिंदी और राजस्थान संस्कृति के नॉलेज के साथ कक्षा 10 वीं की परीक्षा उत्तीर्ण होनी चाहिए.

फॉरेस्टर – उम्मीदवार को कक्षा 12 वीं की परीक्षा उत्तीर्ण होने के साथ देवनागरी लिपि हिंदी और राजस्थान संस्कृति का ज्ञान होना चाहिए.

Rajasthan RSMSSB Recruitment 2021 के लिए आयु सीमा

फॉरेस्ट गार्ड – उम्मीदवार की आयु 18 वर्ष से 24 वर्ष के बीच होनी चाहिए.
फॉरेस्टर – उम्मीदवार की आयु 18 वर्ष से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए.

Rajasthan RSMSSB Recruitment 2021 के लिए परीक्षा शुल्क

जनरल / ओबीसी क्रीमी लेयर: रु. 450 / –
बीसी / ओबीसी नॉन क्रीमी लेयर: रु. 350 / –
एससी / एसटी उम्मीदवार: रु. 250 / –

Rajasthan RSMSSB Recruitment 2021 के लिए चयन प्रक्रिया

उम्मीदवारों का चयन एक लिखित परीक्षा और उसके बाद फिजिकल मेजरमेंट/ एफिशिएंसी टेस्ट के आधार पर होगा.