School Reopening in Haryana: हरियाणा सरकार (Haryana Government) ने राज्य में 1 फरवरी से कक्षा 6 से 8वीं तक के स्कूलों को फिर से खोलने का फैसला किया है. यह घोषणा बुधवार को शिक्षा मंत्री कंवर पाल (Education Minister Kanwar Pal) ने की थी. कक्षा 1 से 5वीं के लिए प्राथमिक स्कूलों को फिर से खोलने (School Reopening) का निर्णय 15 फरवरी, 2021 के बाद लिया जाएगा. मार्च 2020 से 10 महीने के अंतराल के बाद स्कूल (School Reopening in Haryana) फिर से खुलेंगे.Also Read - School Kab Khulenge: हरियाणा में 1 फरवरी से खुलेंगे 10वीं से 12वीं तक के स्कूल, जानें क्या बोले शिक्षा मंत्री

राज्य के शिक्षा मंत्री (Education Minister) ने इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए कहा, “कोविड -19 मामले धीरे-धीरे कम हो रहे हैं और स्थिति में सुधार हुआ है. इसके अलावा टीकाकरण अभियान (Vaccinations Campaign) भी शुरू हो गया है. इसलिए, हमने फरवरी के पहले सप्ताह से कक्षा 6 से 8वीं के लिए स्कूलों को फिर से खोलने (Haryana Mein Khulenge School) का फैसला किया है. स्कूलों को फेस मास्क, सैनिटाइज़र और सोशल डिस्टेंसिंग से संबंधित सभी दिशानिर्देशों का पालन करना होगा.” प्राइमरी कक्षाओं के लिए स्कूलों को फिर से खोलने पर शिक्षा मंत्री (Education Minister) ने कहा कि कोई निर्णय नहीं लिया गया है. सरकार ने 15 फरवरी के बाद स्थिति का मूल्यांकन करने और प्राइमरी कक्षाओं के बारे में निर्णय लेने का फैसला किया है. Also Read - हरियाणा सरकार ने अन्य राज्यों से धान खरीद पर लगाई रोक, यूपी के किसानों में फूटा गुस्सा

राज्य सरकार ने इससे पहले फैसला किया था कि हरियाणा में कक्षा 1 से 8वीं तक के स्कूल फिलहाल बंद रहेंगे और ऑनलाइन कक्षाएं जारी रहेंगी. परीक्षाओं के लिए कक्षा 1 से 8वीं तक के छात्रों का मूल्यांकन जनवरी से शिक्षा मंत्री (Education Minister) द्वारा विकसित AVSAR ऐप के माध्यम से ऑनलाइन किया जाएगा. इस बीच कक्षा 10वीं के लिए स्कूल 14 दिसंबर से फिर से खुल गए हैं और कक्षा 9, 11 को 21 दिसंबर से फिर से खोल दिया गया था. राज्य भर के स्कूलों- निजी और सरकारी दोनों कक्षाओं के लिए सुबह 10 बजे से दोपहर 1 बजे तक 3 घंटे संचालित करने के लिए निर्देशित किया गया था. Also Read - Haryana News: कोविड-19 से जान गंवाने वाले गरीब परिवारों को दो लाख रुपए देगी हरियाणा सरकार, सीएम खट्टर ने सदन में बताया