School Reopening in Madhya Pradesh: कोरोना संक्रमण (Corona Virus) के चलते मध्य प्रदेश में स्कूल अब तक बंद थे. कक्षाएं नहीं लगाई जा रही थीं, लेकिन अब पढ़ाई शुरू कराए जाने की घोषणा कर दी गई है. मध्य प्रदेश सरकार ने स्कूल खोले जाने का ऐलान (School opening date in Madhya Pradesh) किया है. 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा के मद्देनजर कक्षाएं अब 18 दिसंबर से शुरु करने का फैसला लिया गया है. Also Read - स्वास्थ्य कर्मियों के साथ-साथ मीडियकर्मियों को भी प्राथमिकता से कोविड-19 वैक्सीन लगाई जाए: कमलनाथ

स्कूल शिक्षा राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार इन्दर सिंह परमार ने कहा है कि कक्षा 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों के लिए स्कूल इसी सप्ताह 18 दिसंबर से नियमित रूप से पूरे निर्धारित समय तक के लिए संचालित होंगे. यह निर्णय बोर्ड की परीक्षाओं को ध्यान में रखते हुए लिया गया है. कक्षा नवमीं एवं 11वीं के लिए विद्यार्थियों के नामांकन और उपलब्ध अध्यापन कक्ष के आधार पर प्राचार्य द्वारा स्थानीय स्तर पर कक्षाओं के संचालन पर निर्णय लिया जा सकेगा. Also Read - MP का प्‍यारे मियां रेपकांड: दुष्‍कर्म पीड़िता ने भोपाल के सरकारी अस्पताल में तोड़ा दम, उठे ये सवाल

राज्यमंत्री परमार ने निर्देश दिए कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान की मंशानुसार अच्छा प्रदर्शन करने वाले स्कूलों को प्रमाण पत्र दिए जाएं. प्रदर्शन के आधार पर गोल्ड, सिल्वर और कांस्य श्रेणी तथा प्रमाण पत्र के लिए स्कूल सर्टिफिकेशन की व्यवस्था तैयार करें. हमारा घर-हमारा विद्यालय अंतर्गत प्रत्येक सप्ताह अच्छा शिक्षण कार्य करने वाले शिक्षकों को प्रमाण पत्र दिए जाएं. अभिभावकों से सीधे संवाद के लिए प्रदेश स्तरीय मेगा पेरेंट्स-टीचर मीट आयोजित करें, इसमें स्कूल के पूर्व छात्रों को भी जोड़ा जाए. शिक्षकों की परफॉर्मेंस आधारित स्थानांतरण और युक्तियुक्तकरण नीति का प्रारूप तैयार करें. Also Read - Madhya Pradesh: 'Tandav' के खिलाफ दो शहरों में FIR, बीजेपी नेता ने उद्धव ठाकरे को भेजा पत्र

राज्यमंत्री ने प्रवासी श्रमिकों के बच्चों को एनआईसी पोर्टल और जिले स्तर पर किए गए सर्वे के आधार पर पाठ्यपुस्तक या वर्कबुक का वितरण करें, इसके साथ सामाजिक संगठन और जिला प्रशासन के सहयोग से प्रवासी श्रमिकों के बच्चों की पढ़ाई और रहने की व्यवस्था की जाए.