Karnataka SSLC Exam: कर्नाटक में विपक्ष के नेता सिद्धरमैया ने शनिवार को राज्य सरकार से यह पता लगाने को कहा कि हाल ही में संपन्न हुई 10वीं कक्षा की परीक्षा क्या सुरक्षित रूप से संपन्न हुई. उन्होंने सरकार से इस सिलसिले में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों के प्राथमिक संपर्क में आये लोगों की जांच करने का सुझाव दिया है.Also Read - Karnataka 10th Exam Update: कर्नाटक में 10वीं बोर्ड परीक्षा की तारीखों का ऐलान, शिक्षा मंत्री ने बताया कैसा होगा पेपर

पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने हर किसी के सुरक्षित होने की उम्मीद जताते हुए कहा, ‘‘ हमें सही परिणाम को जानने के लिये 15 दिन इंतजार करना पड़ेगा.’’ उन्होंने कहा, ‘‘कर्नाटक मुख्यमंत्री कार्यालय एसएसएलसी परीक्षाएं सुरक्षित रूप से संचालित हो गई मानने के बाद और अधिक परीक्षाएं आयोजित कराने के लिये प्रेरित एवं अति आत्मविश्वास में दिख रही है.’’ Also Read - Board Exam 2021 Karnataka SSLC Exam 2021 जुलाई के तीसरे हफ्ते में शुरू होगी इस राज्य में 10वीं की परीक्षा, जानें क्या है सरकार की तैयारी

उन्होंने कहा, ‘‘सरकार को मेरा यह कड़ा सुझाव है कि वह 15 जून से 20 जुलाई के बीच कोविड-19 जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने वाले लोगों से इस बारे में जानकारी एकत्र करें कि क्या उनके प्राथमिक संपर्क में आया कोई विद्यार्थी एसएसएलसी की परीक्षा में बैठा है. ’’ उन्होंने कहा कि यह इस बात का आकलन करने में मदद करेगा कि सभी परीक्षाएं सुरक्षित रूप से संपन्न हुई हैं. Also Read - कर्नाटक में भाजपा नहीं चला रही सरकार, यहां तीन दलों का गठबंधन- पर्यटन मंत्री का दावा

कोविड-19 मामलों में तीव्र वृद्धि के बीच परीक्षा 25 जून से शुरू हुई थी और यह शुक्रवार को संपन्न हुई. महामारी से जुड़े कारणों को लेकर इसमें करीब 102 विद्यार्थी शामिल नहीं हो सके.