पटना: जेईई-एडवांस्ड 2018 के रविवार को जारी नतीजों में बिहार के सुपर 30 संस्थान से 26 विद्यार्थियों ने सफलता हासिल की है. आनंद कुमार ने 2002 में संस्थान की शुरुआत की थी. जेईई परीक्षा के लिए कमजोर तबके के 30 प्रतिभाशाली छात्रों को शिक्षा दी जाती है. कुमार का कहना है कि यह देखना संतोषजनक है कि दूरदराज के छात्रों ने बेहतर प्रदर्शन किया है, जहां अब तक विकास की बयार नहीं पहुंची है और जीवन अभी भी संघर्षमय है. आनंद कुमार का कहना है कि अगले साल वह 90 स्टूडेंट्स को ट्रेनिंग देंगे और जेईई-एडवांस्ड के लिए तैयार करेंगे. उन्होंने बताया कि छात्रों के चयन के लिए अगले कुछ दिनों में वह एंट्रेस टेस्ट आयोजित करेंगे.

सफलता हासिल करने वाले छात्र बोले
बेहद साधारण पृष्ठभूमि से आने वाले ओनिरजीत गोस्वामी , सूरज कुमार , यश कुमार और सूर्यकांत दास समेत अन्य ने इस साल संस्थान से जेईई परीक्षा पास की है. ओनिरजीत ने बताया कि मेरे जैसे छात्रों को आनंद सर का जो सहयोग मिला उसे कभी नहीं भूल सकता.

झारखंड में गिरिडीह के निवासी सूरज कुमार के अभिभावक कभी स्कूल नहीं गए. उनके पिता भूमिहीन किसान हैं. बेटे के परीक्षा में उतीर्ण होने से वह बहुत खुश हैं. सूरज का कहना है कि आनंद सर ने केवल निशुल्क मार्गदर्शन ही नहीं किया बल्कि हमेशा हमारा हौसला भी बढ़ाया. मेरे पिता को आईआईटी की अहमियत भी नहीं पता लेकिन वह खुश हैं कि मैं कठिन परीक्षा में सफल रहा.

JEE Advanced result 2018: टॉपर प्रणव गोयल ने बताया सफलता का मंत्र, जानें क्या कहा

वहीं यश कुमार का कहना है कि उनके पिता इलेक्ट्रॉनिक शॉप पर सेल्समैन का काम करते हैं.जेईई-एडवांस्ड 2018 में सफलता हासिल करना मेरे लिए बड़ी उपलब्धि है. सुपर-30 में पढ़ाई का शानदार माहौल है. आनंद सर हमेशा हम लोगों को मोटिवेट करते रहे हैं.

यश कुमार और सूर्यकांत दास ने भी अपनी सफलता का श्रेय अपने मार्गदर्शक को दिया. पिछले 16 साल में संस्थान के करीब 500 छात्रों ने आईआईटी के लिए परीक्षा में सफलता हासिल की है. आनंद कुमार अपने अभियान को देश भर के छात्रों तक ले जाने की योजना बना रहे हैं .

क्या है आगे का प्लान
आनंद कुमार ने कहा कि मैं सुपर 30 का विस्तार करना चाहता हूं लेकिन कुछ बाध्यता है. समूचे देश में इसी तरह की पहल की मांग बढी है. और छात्रों तक पहुंचने के लिए मुझे रास्ता तलाशना होगा. सुपर 30 एकेडमी जल्द ही स्क्रीनिंग टेस्ट आयोजित करेगी और संस्थान की वेबसाइट पर सूचनाएं मुहैया कराई जाएगी.