नई दिल्ली: यूजीसी ने कोविड-19 महामारी के मद्देनजर विद्यार्थियों, शिक्षकों और संस्थानों के संबंधित सवालों, शिकायतों एवं अन्य शैक्षणिक मुद्दों पर गौर करने के लिए एक विशेष हेल्पलाइन नंबर 011-23236374 निर्दिष्ट किया है. विद्यार्थियों, शिक्षकों एवं संस्थानों की चिंताओं और शिकायतों पर गौर करने और तदनुसार ही उनका निवारण करने के लिए यूजीसी में एक कार्यदल (टास्क फोर्स) का गठन भी किया गया है. यूजीसी की तरफ से जारी बयान के मुताबिक, उसने कोविड-19 के मद्देनजर विद्यार्थियों, शिक्षकों और संस्थानों के संबंधित प्रश्नों, शिकायतों एवं अन्य शैक्षणिक मुद्दों पर गौर करने के लिए अनेक कदम उठाए हैं. Also Read - एचआरडी मंत्रालय ने लॉन्च किया 'दीक्षा आरंभ' प्रोग्राम, कॉलेजों में एडमिशन लेने में करेगा मदद

शिकायतों को यूजीसी के मौजूदा ऑनलाइन विद्यार्थी शिकायत निवारण पोर्टल पर भी दर्ज कराया जा सकता है. विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने कोविड-19 महामारी के मद्देनजर 29 अप्रैल को परीक्षाओं और अकादमिक कैलेंडर पर दिशा-निर्देश जारी किए हैं. यूजीसी ने बयान में कहा है, विश्वविद्यालयों को इन दिशा-निर्देशों को अपनाते एवं लागू करते समय सभी हितधारकों की सुरक्षा एवं रुचि को ध्यान में रखना चाहिए. सभी संबंधित व्यक्तियों के स्वास्थ्य को सर्वोच्च प्राथमिकता देनी चाहिए. यूजीसी अकादमिक गतिविधियों या कार्यकलापों की समुचित योजना बनाने की सलाह देता है. Also Read - यूजीसी की सिफारिश, सभी कॉलेजों में वायवा, प्रैक्टिकल टेस्ट हो ऑनलाइन, कई यूनिवर्सिटी ने शुरू की तैयारी

यूजीसी ने कहा, विश्वविद्यालयों से यह भी अनुरोध किया गया है कि वे इस महामारी के मद्देनजर विद्यार्थियों की परीक्षाओं और अन्य शैक्षणिक गतिविधियों या कार्यकलापों से संबंधित शिकायतों से निपटने के लिए एक विशेष प्रकोष्ठ बनाएं और छात्रों को इसकी सूचना दें. यूजीसी ने कहा है, सभी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों से अनुरोध किया जाता है कि वे अपनी-अपनी आधिकारिक वेबसाइटों पर इस सार्वजनिक सूचना की एक प्रति अपलोड करें और ई-मेल एवं अन्य डिजिटल मीडिया के माध्यम से इसे शिक्षक एवं विद्यार्थी समुदाय के साथ साझा भी करें. Also Read - UGC का निर्देश, विश्वविद्यालय छात्रों की शिकायत निपटारा के लिए गठित करें सेल, जारी किया हेल्पलाइन नंबर