UGC-NET 2020 and June 2021 Examinations: 5 दिसंबर को होने वाली यूजीसी-नेट 2020 और जून 2021 की परीक्षाओं में बदलाव किया गया है. यह बदलाव जवाद चक्रवात (Jawad Cyclone) के मद्देनजर 4 दिसंबर के लिए जारी मौसम विभाग के रेड अलर्ट ओर एडवाइजरी के बाद दो राज्‍यों ओडिशा और आंध्र प्रदेश में होने वाली परीक्षाओं के लिए उठाया गया है. पुनर्निर्धारित परीक्षा के लिए एक संशोधित डेटाशीट बाद में अपलोड की जाएगी.Also Read - Chandrababu Naidu Covid-19 Positive: कोरोना की चपेट में आए चंद्रबाबू नायडू, खुद को किया आइसोलेट

Also Read - Swarna Ratham Procession: वैकुंठ एकादशी पर तिरुमाला मंदिर परिसर में 'स्वर्ण रथम जुलूस' निकाला गया, देखें तस्वीरें..

इसी तरह से भारतीय विदेश व्यापार संस्थान (Indian Institute of Foreign Trade)के MBA (IB) 2022-24 के लिए 5 दिसंबर को होने वाली प्रवेश परीक्षा की तिथि में बदलाव किया गया है. जानकारी के मुताबिक, विजयवाड़ा और विशाखापत्तनम (आंध्र), भुवनेश्वर, संबलपुर, कटक (ओडिशा) और कोलकाता, दुर्गापुर (पश्चिम बंगाल) में ये परीक्षा स्‍थगित की गई है. संशोधित तिथि बाद में घोषित की जाएगी. Also Read - भारत में 2 सालों में पेड़, वन क्षेत्र में 2261 वर्ग KM की बढ़ोतरी हुई : ISFR Report

बता दें कि चक्रवाती तूफान के बंगाल की खाड़ी से बाहर जाने से पहले ओडिशा के पुरी जिले में किसी स्थान पर पहुंचने की संभावना है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) द्वारा बताये गये चक्रवात के संभावित मार्ग के मुताबिक यह पुरी तट पर दस्तक दे सकता है और समुद्र में लौट सकता है. चक्रवात के जिले में पहुंचने के साथ 80 से 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है. उन्होंने बताया कि चक्रवात के ओडिशा तट को छूने के बाद रफ्तार में क्रमिक रूप से कमी आ सकती है. इस बात की भी संभावना है कि चक्रवात अपना रास्ता बदल ले और ओडिशा में नहीं पहुंचे. यह महज तट रेखा के ऊपर से गुजर सकता है और पुरी इसके घर्षण प्रभाव का सामना कर सकता है.