UP Board 10th,12th Exam Toppers List: उत्तर प्रदेश मध्यम शिक्षा परिषद (UPMSP) जिसे आमतौर पर यूपी बोर्ड के रूप में जाना जाता है, वह 27 जून को कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं बोर्ड परीक्षा का रिजल्ट जारी करेगा. भारत के सबसे बड़े शिक्षा बोर्डों में से एक यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए उपस्थित होने वाले 59 लाख से अधिक छात्र शामिल हैं.Also Read - Winter Vacation in UP: यूपी के सरकारी स्कूलों में 14 दिन का होगा विंटर वेकेशन, साल 2022 में 113 दिनों का मिलेगा अवकाश

वहीं यूपी बोर्ड की परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले छात्रों की संख्या में वृद्धि हुई है. आमतौर पर स्पॉटलाइट टॉपर पर होता है. कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं दोनों में किसी भी विषय को पास करने के लिए छात्रों को 35 प्रतिशत अंकों की आवश्यकता होती है और जो असफल होते हैं उन्हें सप्लीमेंट्री अंकों के रूप में दूसरा मौका मिलता है तथा मूल्यांकन और रीचेकिंग की सुविधाएं भी उपलब्ध हैं. जैसा कि हम इस वर्ष के टॉपर का इंतजार कर रहे हैं, तो आइए यहाँ एक नज़र उन लोगों पर डालते हैं जिन्होंने पहले रैंक प्राप्त की है. Also Read - UP Board 10th 12th Exam 2022: 10वीं और 12वीं परीक्षा के लिये फॉर्म भरने की आज आखिरी तारीख

UP Board Topper 2019 Also Read - UP Board 10th 12th Exam 2022 date: कब होंगी यूपी बोर्ड की प्री बोर्ड और बोर्ड की परीक्षाएं, उपमुख्यमंत्री ने दिया जवाब

कक्षा 10 में गौतम रघुवंशी ने 97.17 प्रतिशत अंकों के साथ या 600 में से 583 अंक लेकर यूपी बोर्ड परीक्षा 2019 में टॉप किया था. रघुवंशी ने आईआईटी से इंजीनियरिंग करने के अपने सपने साझा किए थे. उसी वर्ष कक्षा 12वीं में तनु तोमर ने 97.8 प्रतिशत अंकों के साथ टॉप किया था, जो पिछले तीन वर्षों के टॉपर्स से अधिक स्कोर किए थे. 2019 में यूपी बोर्ड कक्षा 12वीं की परीक्षा में आकाश मौर्य ने टॉप किया था, जिन्होंने 93.20 प्रतिशत अंक प्राप्त किए थे. तीन भाई-बहनों में सबसे बड़ी तनु एक डॉक्टर बनने की ख्वाहिश रखती थी.

UP Board Topper 2018

2017 की तुलना में 2018 में यूपी बोर्ड कक्षा 12वीं में 10 प्रतिशत कम छात्र उत्तीर्ण हुए थे. कक्षा 10वीं में अंजलि वर्मा ने 96.33 प्रतिशत अंक हासिल किए थे. अच्छी शिक्षा न मिलने के कारण उसे अंबेडकर नगर जिले में अपना घर छोड़ना पड़ा था. वह पढ़ाई करने के लिए दो साल पहले इलाहाबाद में किराए के मकान में रहने लगी और अपने भाई से मिली. कक्षा 12 में प्रथम रैंक संयुक्त रूप से आकाश मौर्य और रजनीश शुक्ला ने 93.20 प्रतिशत अंकों के साथ हासिल किया. मौर्य एक ऑटोरिक्शा चालक का बेटा है जिसे कठिनाई का सामना करना पड़ा लेकिन वह अपने माता-पिता से प्रेरित था. मौर्य ने कोई कोचिंग नहीं ली और इंजीनियर बनना चाहते थे. शुक्ला ने एक IPS अधिकारी बनने की इच्छा व्यक्त की थी. उनके पिता एक शिक्षक हैं और परिवार का माहौल शिक्षा की ओर है. उनके बड़े भाई ने 2016 में इंटरमीडिएट की परीक्षा में भी टॉप किया था.

UP Board Topper 2017

2017 में तेजस्वी ने 95.83 प्रतिशत अंकों के साथ UP Board 10 वीं कक्षा में टॉप किया था. इसके बाद क्षितिज सिंह 95.33 प्रतिशत के साथ पास हुए. तेजस्वी को 600 में से 575 अंक मिले थे. वहीं कक्षा 12वीं में प्रियांशी तिवारी ने 96.20 प्रतिशत अंकों के साथ शीर्ष स्थान प्राप्त किया था, जिसके बाद भावना ने 95.80 प्रतिशत अंक प्राप्त किए. प्रियांशी को 500 में से 481 अंक मिले हैं. वह एक शिक्षक की बेटी है और आईएएस अधिकारी बनने का सपना देखती हैं.