UP Board 10th, 12th Result 2021 Criteria/Formula/CBSE 12th Board Result 2021 Formula/Criteria: यूपी बोर्ड (UP Board) ने कोरोना की वजह से रद्द हुई 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के रिजल्ट (UP Board 10th, 12th Result 2021) जारी करने का फॉर्मूला तैयार कर लिया है. रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने 10वीं के रिजल्ट (UP Board 10th Result 2021) के लिए 9वीं में छात्र के प्रदर्शन को आधार बनाया है, जबकि 12वीं के रिजल्ट (UP Board 12th Result 2021) में छात्र के 10वीं के रिजल्ट (UP Board 10th Result 2021) का वेटेज सबसे ज्यादा रहेगा.Also Read - CBSE 12th Board Result 2021 Date: CBSE बोर्ड ने 12वीं रिजल्ट को लेकर दिया ये लेटेस्ट अपडेट्स, जानें कब होगा जारी

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 12वीं का रिजल्ट (UP Board 12th Result 2021) तैयार करने का आधार 10वीं में छात्र का प्रदर्शन होगा. इस रिजल्ट (UP Board Result 2021) में 10वीं के नंबर का वेटेज 50 फीसदी, 11वीं के नंबर का वेटेज 40 फीसदी और 12वीं प्रीबोर्ड के नतीजे का वेटेज 10 फीसदी होगा. 10th बोर्ड के रिजल्ट (UP Board 10th Result 2021) में 9वीं के रिजल्ट का वेटेज 50 फीसदी रहेगा. इसके अलावे 10वीं प्री-बोर्ड के लिए 10 फीसदी वेटेज मिलेगा. Also Read - CBSE 12th Board Result 2021 Date: CBSE बोर्ड ने 12वीं रिजल्ट को लेकर जारी किया ये लेटेस्ट जानकारी, जानें तमाम डिटेल

गौरतलब है कि कल CBSE ने भी 12वीं बोर्ड के रिजल्ट (CBSE Board 12th Result 2021) का फॉर्मूला जारी कर दिया था. सीबीएसई ने 12वीं के रिजल्ट में 10वीं के रिजल्ट का वेटेज 40 फीसदी, 11वीं के रिजल्ट का वेटेज 30 फीसदी और प्री बोर्ड के रिजल्ट का वेटेज 30 फीसदी देने का फैसला किया है. उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने 10वीं-12वीं के रिजल्ट तैयार करने के लिए लोगों से सुझाव मांगे थे. उसे हजारों सुझाव मिले थे. रिपोर्ट के मुताबिक बोर्ड रिजल्ट (UP Board 10th, 12th Result 2021) के फॉर्मूले के बारे में बोर्ड मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को 20 जून को ड्राफ्ट रिपोर्ट सौंपेगा. Also Read - UP Board UPMSP 10th, 12th Result 2021 Date: यूपी बोर्ड 10वीं, 12वीं का रिजल्ट इस दिन जारी होने की है संभावना, जानें इससे जुड़ी तमाम बातें

सीबीएसई की ओर से जारी मार्किंग फॉर्मूले को लेकर तमाम छात्रों ने सवाल उठाए हैं. छात्रों का कहना है कि 10वीं के बोर्ड एग्जाम में बच्चे ज्यादा मेहनत करते हैं, लेकिन सीबीएसई ने 12वीं के रिजल्ट में इसके लिए वेटेज कम दिया है. जबकि 11वीं की परीक्षा को इतना महत्वपूर्ण नहीं माना जाता. लेकिन 10वीं और 11वीं के रिजल्ट को एक समान वेटेज दिया गया है, जो ठीक नहीं है. ऐसे में माना जा रहा है कि छात्रों की चिंताओं को ध्यान में रखते हुए यूपी बोर्ड ने अपने यहां 12वीं के रिजल्ट में 10वीं का वेटेज बढ़ाने का फैसला किया है.