UP Board Exam 2021 Date: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (UPMSP) ​राज्य में फैले 8,497 केंद्रों पर हाई स्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा 2021 (UP Board High School & Intermediate Exam 2021) का आयोजन करेगा. यूपी बोर्ड (UP Board) ने इन परीक्षा केंद्रों की प्रारंभिक सूची संबंधित स्कूलों के जिला निरीक्षक (DIoS) को भेज दी है. अब उनके खिलाफ प्राप्त आपत्तियों के आधार पर एक और जांच के बाद (DIoS) केंद्रों पर संबंधित जिला समिति की रिपोर्ट यूपी बोर्ड (UP Board) को भेजेंगे.Also Read - Winter Vacation in UP: यूपी के सरकारी स्कूलों में 14 दिन का होगा विंटर वेकेशन, साल 2022 में 113 दिनों का मिलेगा अवकाश

यूपी बोर्ड (UP Board) के सचिव दिव्य कांत शुक्ला ने एचटी के रिपोर्ट के अनुसार इस बारे में पुष्टि करते हुए कहा, “हमने DIoS को विशिष्ट परीक्षा केंद्रों के खिलाफ आपत्तियों पर गौर करने और 18 फरवरी तक यूपी बोर्ड (UP Board) को जिला समिति की रिपोर्ट उपलब्ध कराने के लिए कहा है. जिला समिति के गहन अध्ययन के बाद बोर्ड (UP Board) 22 फरवरी तक की सिफारिशें की केंद्र मूल्यांकन समिति द्वारा केंद्रों की अंतिम सूची जारी की जाएगी. ” Also Read - UP Board 10th 12th Exam 2022: 10वीं और 12वीं परीक्षा के लिये फॉर्म भरने की आज आखिरी तारीख

उन्होंने कहा कि कोविड -19 महामारी के आलोक में जारी दिशानिर्देशों के अनुसार वर्ष 2021 बोर्ड परीक्षाओं (UP Board Exam 2021) के लिए वर्ष 2020 की परीक्षाओं की तुलना में 10 प्रतिशत अधिक परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. शुक्ला ने कहा, “परीक्षा केंद्र निर्धारण समिति ने इस बार 2020 में स्थापित 7,783 परीक्षा केंद्रों के मुकाबले 8,497 परीक्षा केंद्र बनाने की सिफारिश की है.” 25 नवंबर, 2020 को 2021 परीक्षाओं के लिए राज्य सरकार द्वारा जारी केंद्र आवंटन नीति में हाल ही में संशोधन किया गया था, जो परीक्षा केंद्र बनाए जाने वाले स्कूलों में पर्याप्त संसाधनों की कमी को देखते हुए किया गया था. केंद्र आवंटन नीति में बदलाव के बाद बोर्ड (Board Exam 2021) द्वारा सभी जिलों से इस संबंध में संशोधित प्रस्ताव लेने के बाद परीक्षा केंद्रों का निर्धारण किया गया था. Also Read - UP Board 10th 12th Exam 2022 date: कब होंगी यूपी बोर्ड की प्री बोर्ड और बोर्ड की परीक्षाएं, उपमुख्यमंत्री ने दिया जवाब

बता दें कि इससे पहले 14 छात्रों को एक कमरे में परीक्षा में शामिल होना था, लेकिन अब 23 छात्रों को एक ही स्थान पर परीक्षा दी जाएगी. पूर्व की नीति के अनुसार परीक्षा में उपस्थित होने वाले प्रत्येक उम्मीदवार के लिए 36 वर्ग फुट (3.34 वर्गमीटर) का क्षेत्र निर्धारित किया गया था. अब प्रत्येक उम्मीदवारों के बीच 6 वर्ग फुट की दूरी होगी, जिसमें प्रत्येक उम्मीदवारों को अपने लिए 25 वर्ग फुट (2.32 वर्गमीटर) जगह मिलेगी. 6 फीट की दूरी बनाए रखने की आवश्यकता के साथ सभी चार दीवारों को भी दूर किया जा रहा है ताकि 23 बच्चे एक कमरे में बैठ सकेंगे.