इलाहाबाद: यूपी पुलिस रिक्रूटमेंट एंड प्रोमोशन बोर्ड ने इस साल पुलिस भर्ती परीक्षा को CCTV कैमरे के सर्विलांस में आयोजित करने का फैसला लिया है. इस परीक्षा में करीब 22.5 लाख परीक्षार्थी शामिल होंगे. परीक्षा उत्तर प्रदेश के 860 केंद्रों पर 18 और 19 जून को आयोजित की गई थी. Also Read - पुलिस भर्ती दौड़ : पिता कर रहे थे बेटी की सफलता का इंतजार, फिनिशिंग लाइन पार करते ही पड़ा दिल का दौरा, मौत

सेंटर्स की जानकारी  Also Read - UP Police Recruitment 2018: यूपी पुलिस-पीएसी में होगी 49,568 पदों पर भर्ती, इस तारीख से करें आवेदन

हालांकि उम्मीदवार की परीक्षा का केंद्र कौन सा होगा और किस शहर में होगा इसकी जानकारी 14 जून को दी जाएगी. यानी परीक्षा के तीन दिन पहले ही 14 जून को परीक्षार्थियों को यह मालूम हो जाएगा कि उनका एग्जाम सेंटर कहां है. परीक्षार्थियों से निवेदन है कि परीक्षा से पहले ही वह एक बार परीक्षा केंद्र को जाकर जरूर देख लें. ताकि परीक्षा के दिन भागदौड़ ना हो. Also Read - UP Police recruitment 2018: 56,808 पदों पर होने वाली भर्ती टली, नहीं जारी हुआ नोटिफिकेशन

दो हिस्सों में एडमिट कार्ड

एसपी (Protocol) पुर्णेंदुु सिंह ने बताया कि पुलिस भर्ती परीक्षा 18 और 19 जून को आयोजित की जाएगी. परीक्षाएं चार भाग में होगी. इसलिए उम्मीदवारों के लिए दो हिस्सों में एडमिट कार्ड जारी किया जाएगा. शहर और केंद्र के नाम अलग से भेजे जाएंगे.

हर केंद्र सीसीटीवी से लैस

उन्होंने कहा कि परीक्षा में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी ना हो, इसलिए सभी केंद्रों को CCTV से लैस किया गया है. एक कमरे में सिर्फ 24 परीक्षार्थियों को ही बैठाया जाएगा. इसके अलावा परीक्षा हॉल में छात्र अपने साथ मोबाइल या किसी भी प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस नहीं ले जा सकेंगे. यहां तक कि उन्हें जूते पहनकर परीक्षा में बैैैैठने की अनुमति भी नहीं होगी.

निरीक्षकों की टीम में एसएचओ

परीक्षा केंद्रों पर मौजूद निरीक्षक उम्मीदवारों के बायोमेट्रिक डाटा भी कलेक्ट करेंगे. निरीक्षकों की टीम में SHO रैंक के पुलिस मौजूद होंगे. दो सब इंस्पेक्टर और एक महिला कॉन्सटेबल इसमें शामिल होंगे. एसएचओ रैंक पुलिस निरीक्षक बंदूकधारी होंगे.

मेडिकल सेवा

परीक्षा ऐसी तिथि में आयोजित हो रही है, जब गर्मी चरम पर होगी. इसलिए मौसम को देखते हुए परीक्षा केंद्रों पर मेडिकल सेवा भी उपलब्ध होगी.