लखनऊ: पिछले महीने 27 मई 2018 को उत्तर प्रदेश शिक्षक भर्ती परीक्षा आयोजित की गई. इस परीक्षा के जरिये 68,500 शिक्षकों की भर्ती की जाएगी. परीक्षा में प्रश्नों के जरिये यह समझने की कोशिश की जाती है कि जिस शिक्षक का चयन छात्रों को पढ़ाने के लिए किया गया, वह छात्रों के सवालों का जवाब दे पाएगा या नहीं. क्या शिक्षक छात्रों के सभी कंफ्यूजन दूर करने में सक्षम है. लेकिन शिक्षक भर्ती परीक्षा में ही कुछ ऐसे सवाल पूछे गए जो कंफ्यूजन पैदा करते हैं और जिन पर विवाद गहरा गया है. शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल होने वाले उम्मीदवारों का दावा है कि कुछ ऐसे प्रश्न भी पूछे गए हैं, जिनके उत्तर अलग-अलग तर्कों के आधार पर भिन्न हैं.

परीक्षा की आंसर शीट 5 जून को ऑफिशियल वेबसाइट पर जारी की जाएगी. हिन्दुस्तान की रिपोर्ट के अनुसार इससे पहले ही परीक्षा देने वाले उम्मीदवारों ने सचिव डॉ. सुत्ता सिंह को ऐसे प्रश्नों की एक सूची भेज दी है, जिसका एक नहीं कई उत्तर संभव है. उनमें से कुछ सवाल इस प्रकार हैं…

1. सुखार्त में कौन सी संधि है…
इसका उत्तर दीर्घ और गुण संधि दोनों होगा.

2. प्रधानमंत्री में कौन सा समास होगा…
परीक्षार्थियों की मानें तो कर्मधारय या तत्पुरुष या बहुब्रीहि तीनों हो सकते हैं.

CBSE NEET Result 2018: कल cbseneet.nic.in पर जारी हो सकते हैं नतीजे

3. ‘मैंने कहा होगा’ किस प्रकार का वाक्य है?
देखा जाए तो यह एक सरल वाक्य है. पर इसे यदि भावार्थ के आधार पर देखा जाए तो यह संदेहबोधक वाक्य भी हो सकता है.

4. सूर्य मंदिर किस स्थान पर स्थित है?
इसका जवाब कोणार्क व पुरी दोनों है.

बता दें कि 27 मई को आयोजित हुई इस परीक्षा के लिए 125745 अभ्यर्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया था. इसमें सिर्फ 107908 उम्मीदवारों ने ही परीक्षा दी. यह परीक्षा सरकारी प्राथमिक स्कूलों में 68500 शिक्षकों की भर्ती के लिए आयोजित की गई थी.