Abducted CRPF Commander Rakeshwar Singh Released: छत्तीसगढ़ में नक्सली हमले के दौरान बंधक बनाए गए सीआरपीएफ की कोबरा यूनिट के कमांडर राकेश्वर सिंह अब रिहा हो गए हैं. नक्सलियों के कब्जे से रिहाई के बाद राकेश्वर सिंह को बीजापुर के सीआरपीएफ कैंप में लाया गया. Also Read - Cooch Behar Firing: ममता बनर्जी ने CRPF पर लगाया फा‍यरिंग का आरोप, केंद्रीय बल ने साफ कहा- घटना से हमारा कोई संबंध नहीं

बीते शनिवार को राज्य के सुकमा में नक्सलियों ने सीआरपीएफ पर हमला बोला था. इस हमले में 23 जवान शहीद हो गए थे जबकि 31 अन्य घायल हो गए थे. Also Read - Chhattisgarh में नक्‍सलियों के कब्‍जे में CRPF जवान, मां और पत्‍नी ने सरकार से रिहाई के लिए लगाई गुहार

इस हमले के दौरान राकेश्वर सिंह को नक्सलियों ने बंधक बना लिया था. उनकी रिहाई के बाद उनके परिवार ने राहत की सांस ली है. उनकी पत्नी ने भगवान और सरकार को शुक्रिया बोला है. Also Read - ... तो नक्सलियों के कब्जे में है कोबरा कमांडो? दावे के सत्यापन में जुटी हैं सुरक्षा एजेंसियां

सीआरपीएफ कमांडर की रिहाई के लिए परदे के पीछे से बातचीत चल रही थी. लेकिन अभी तक कुछ भी स्पष्ट नहीं हुआ है कि उनकी रिहाई कैसे संभव हुई.

कमांडर की रिहाई के लिए नक्सलियों ने मध्यस्थ को नियुक्त करने को कहा था.

नक्सलियों ने पहले ही कहा था कि कमांडर राकेश्वर सिंह उनके कब्जे में हैं और सुरक्षित है. उन लोगों ने राकेश्वर सिंह का अपने कब्जे की तस्वीर भी जारी की थी.

राकेश्वर सिंह का परिवार जम्मू में रहता है. वहीं से उनकी पत्नी ने बताया कि उन्हें आधिकारिक तौर पर सूचित किया गया है कि उनके पति सुरक्षित हैं. उन्होंने बताया कि उनका स्वास्थ्य भी ठीक है.

राकेश्वर सिंह की सुरक्षित रिहाई से उनके परिवार में उत्सव का माहौल है. उनकी पत्नी और परिवार के अन्य सदस्य काफी खुश नजर आए.