नई दिल्ली: केंद्र ने छत्तीसगढ़ में भिलाई इस्पात संयंत्र (बीएसपी) में विस्फोट में घायल हुए मरीजों का इलाज करने के लिए बुधवार को एम्स से चार डॉक्टरों का दल भेजा. छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में स्थित स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) के भिलाई इस्पात संयंत्र में मंगलवार को गैस पाइपलाइन में विस्फोट में 11 लोगों की मौत हो गई और 14 अन्य घायल हो गए.

स्वास्थ्य मंत्रालय के एक सूत्र ने बताया कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी. नड्डा ने राज्य सरकार से बात की और उन्हें हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया.

भिलाई स्टील प्लांट की पाइप लाइन में ब्लास्ट, 9 कर्मचारियों की मौत, 11 घायल

चिकित्सकों के दल का नेतृत्व अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में बर्न्स एंड प्लास्टिक सर्जरी विभाग के प्रमुख और प्रोफेसर मनीष सिंघल ने किया है.

सूत्र ने कहा, ”डॉक्टरों का दल मरीजों की स्थिति का जायजा लेने तथा उनके इलाज में डॉक्टरों की सहायता करने के लिए वहां के अस्पताल पहुंच गया है.”