Live Updates

  • 3:31 PM IST

    छत्तीसगढ़ में कांग्रेस 69 सीटों पर आगे है. यहां बीजेपी सिर्फ 11 सीटों पर आगे दिख रही है, जबकि 10 सीटें अन्य के खाते में जाती दिख रही है.

  • 2:06 PM IST

    अब कांग्रेस 66 सीटों पर आगे.

  • 2:02 PM IST

    छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने 65 सीटों पर बढ़त बना ली है. बीजेपी सिर्फ 17 सीटों पर आगे है. 6 सीट पर जनता कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी का गठबंधन आगे है, जबकि एक सीट अन्य के खाते में जाते दिख रही है.

  • 12:18 PM IST

    छत्तीसगढ़ से आए अब तक के रुझानों में कांग्रेस ने निर्णायक बढ़त बना ली है. यहां कांग्रेस की दो तिहाई बहुमत के साथ सत्ता में वापसी होते दिख रही है. कांग्रेस 58 सीटों पर आगे है. जबकि बीजेपी काफी पीछे छूट गई है. बीजेपी सिर्फ 18 सीटों पर आगे है. अजीत जोगी की पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ 8 सीटों पर आगे है.

  • 11:10 AM IST

    राज्य में कांग्रेस काफी आगे चल रही है. तीन घंटे से जारी मतगढ़ना में बड़ी बढ़त कांग्रेस ने बनाई हुई है.

  • 10:54 AM IST
    छत्तीसगढ़ की खरसिया विधानसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी ओपी चौधरी पीछे हैं. ओपी चौधरी पूर्व आईएएस अधिकारी हैं. उन्होंने डीएम पद से इस्तीफ़ा देने के बाद बीजेपी ज्वाइन की थी. जिस सीट पर ओपी चौधरी चुनाव लड़े थे, वह इलाका कांग्रेस का गढ़ माना जाता है.
  • 10:49 AM IST
    राजनांदगांव से सीएम रमन सिंह काफी पीछे चल रहे हैं. कांग्रेस प्रत्याशी करुणा शुक्ला काफी आगे चल रही हैं. करुणा शुक्ला अटल बिहारी बाजपेयी की भतीजी हैं.
  • 10:40 AM IST

    रुझानों में कांग्रेस लगातार आगे चल रही है.

  • 10:32 AM IST

    छत्तीसगढ़ में बीजेपी 15 साल से सत्ता में है.

  • 10:31 AM IST

    रुझानों से लग रहा है कि बीजेपी छत्तीसगढ़ में सत्ता से बाहर हो सकती है.

नई दिल्ली: Chhattisgarh Elections Results 2018: छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव (Chhattisgarh Assembly Election) के लिए वोटों की गिनती शुरू हो गई है. 18 साल के हो चुके युवा राज्य छत्तीसगढ़ के नतीजों पर सबकी निगाहें टिकी हैं. छत्तीसगढ़ में 90 सीटों के लिए दो चरणों में 12 नवंबर और 20 नवंबर को मतदान हुआ था. मतगणना के लिए 5184 गणनाकर्मी और 1500 माईक्रोऑब्जर्वर नियुक्त किए गए हैं. मतगणना केन्द्रों पर त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था है. मध्य प्रदेश से अलग होने के बाद अब तक राज्य में तीन चुनाव हुए हैं और तीनों में ही बीजेपी ने जीत हासिल की है. रमन सिंह पिछले 15 सालों से राज्य के मुख्यमंत्री हैं. मुख्य मुकाबला कांग्रेस और बीजेपी के बीच है, लेकिन इस बार अजीत जोगी की पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ और बीएसपी का गठबंधन भी मैदान में है. अजित जोगी राज्य के पहले निर्वाचित मुख्यमंत्री थे. सरकान बनाने के लिए किसी भी पार्टी को 46 सीटें जीतनी होंगी.

मुख्यमंत्री रमन सिंह, उनके मंत्रिमंडल के 11 सदस्यों, विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल, कांकेर लोकसभा क्षेत्र के सांसद विक्रम उसेंडी, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, विपक्ष के नेता टीएस सिंहदेव, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, दुर्ग लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस सांसद ताम्रध्वज साहू, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के मुखिया और पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी समेत 1269 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा. राज्य के 90 विधानसभा सीटों में से 29 सीटें अनुसूचित जनजाति के लिए और 10 सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं. राज्य में इन आरक्षित सीटों पर बड़ी जीत के माध्यम से ही सत्ता तक पहुंचा जा सकता है.

इस चुनाव में कांग्रेस की तरफ से राहुल गांधी पोस्टर बॉय थे, वहीं बीजेपी ने रमन सिंह के चेहरे पर ही चुनाव लड़ा. 2013 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को राज्य की 90 में से 49 सीटों पर जीत मिली थी. वहीं कांग्रेस ने 39 सीटें जीती थीं. बीजेपी को 41.04 प्रतिशत और कांग्रेस को 40.29 प्रतिशत वोट मिले थे. 2008 में हुए चुनाव में बीजेपी को 50 सीटें मिलीं थीं और उसके वोट प्रतिशत भी बढ़ा था. वहीं कांग्रेस को 38 सीटें मिली थीं. बीजेपी को 40.33 प्रतिशत और कांग्रेस को 38.63 प्रतिशत वोट मिले थे.