नई दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) कांग्रेस ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी करुणा शुक्ला को छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में राज्य के मुख्यमंत्री रमन सिंह के खिलाफ राजनांदगांव विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में उतार दिया है. Also Read - 3000 मी. की ऊंचाई पर बनी दुनिया की सबसे लंबी सुरंग का नाम पूर्व पीएम के नाम पर होगा

Also Read - Madhya Pradesh Election Results 2018: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के भांजे अनूप मिश्रा 502 वोट से पीछे

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए कांग्रेस की ओर से जारी उम्मीदवारों की दूसरी सूची में पार्टी ने बाकी बची छह विधानसभा सीटों के लिए उम्मीदवार घोषित किये. कांग्रेस ने इससे पहले 12 सीटों के लिए उम्मीदवार घोषित किये थे. छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव का पहला चरण 12 नवम्बर को होगा और नामांकन दाखिल करने की आखिरी तिथि 23 अक्टूबर है. Also Read - Exit Polls: मध्यप्रदेश में बीजेपी तो राजस्थान में कांग्रेस आगे, छत्तीसगढ़ में कड़ा मुकाबला

विधानसभा चुनाव: बीजेपी ने छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी की

शुक्ला ने कुछ वर्ष पहले भाजपा छोड़ दी थी और कांग्रेस में शामिल हो गई थीं. उनके अलावा गिरवार जंघेल खैरागढ़ सीट से, भुनेश्वर सिंह बघेल डोंगरगढ़ (सु) और दलेश्वर साहू डोंगरगांव विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे. पार्टी ने इसके साथ ही चन्नी साहू को खुज्जी सीट से और इंद्र शाह मंडावी को मोहला-मानपुर (सु) सीट से मैदान में उतारा है.

छत्तीसगढ़: महागठबंधन का फैसला, पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी नहीं लड़ेंगे चुनाव

छत्‍तीसगढ़ में लगातार 15 साल से भाजपा का राज है लेकिन इस बार मुकाबला कांटे का है. कांग्रेस सत्‍ता की मजबूत दावेदार है लेकिन अजीत जोगी की पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) तथा बहुजन समाज पार्टी के बीच गठबंधन ने मुकाबले को त्रिकोणात्‍मक बना दिया है. यह म‍हागठबंधन कांग्रेस के साथ भाजपा के वोटों में भी कटौती का कारण बन सकता है.