नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ में भारतीय जनता पार्टी ने पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और वरिष्ठ विधायक धरम लाल कौशिक को विधायक दल का नेता चुना है. वह विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष होंगे. भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने शुक्रवार को यहां बताया कि कौशिक को भाजपा विधायक दल की बैठक में नेता चुना गया. उन्होंने बताया कि शुक्रवार सुबह एकात्म परिसर में भाजपा के नव निर्वाचित विधायकों की बैठक आयोजित की गई. बैठक में केन्द्रीय पर्यवेक्षक थावरचंद गहलोत और अनिल जैन उपस्थित थे. धरम लाल कौशिक बिलासपुर जिले के बिल्हा क्षेत्र से विधायक हैं. वह वर्ष 2008 से 2013 के दौरान विधानसभा अध्यक्ष भी रहे हैं. इस दौरान राज्य में भाजपा की सरकार थी. कौशिक अन्य पिछड़ा वर्ग के वरिष्ठ नेता हैं.

राज्य में इस वर्ष हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 68 सीटों पर, भाजपा ने 15 सीटों पर और बसपा और जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने सात सीटों पर जीत हासिल की है. छत्तीसगढ़ की नई विधानसभा का पहला सत्र शुक्रवाक से शुरू हुआ है और 11 जनवरी तक चलेगा.

बता दें कि बीजेपी संसदीय बोर्ड ने मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में अपने विधायक दल के नेताओं के चुनाव के लिए केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, अरुण जेटली और थावरचंद गहलोत समेत केंद्रीय पर्यवेक्षकों को गुरुवार को नियुक्त किया था. पार्टी के वरिष्ठ नेता जे पी नड्डा ने बताया था कि बैठक में अन्य शीर्ष नेताओं के अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह मौजूद रहे.

बोर्ड ने मध्य प्रदेश के लिए सिंह और विनय सहस्रबुद्धे, राजस्थान के लिए जेटली और अविनाश राय खन्ना तथा छत्तीसगढ़ के लिए गहलोत और अनिल जैन को नियुक्त किया गया था. सहस्रबुद्धे, खन्ना और जैन संबंधित राज्यों में पार्टी के प्रभारी भी हैं. पार्टी पिछले महीने इन तीनों राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों में कांग्रेस से हार गई थी. नड्डा ने बताया कि राज्यों में विधायक दल की बैठकों की तारीखों पर बाद में निर्णय लिया जाएगा.

(इनपुट-भाषा)