रायपुर: छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में अज्ञात लोगों द्वारा दो सगी बहनों की हत्या मामले में पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. दोनों बहनों की उम्र 20 से 23 साल के बीच है. पुलिस को घर में आने वाले दो लड़कों पर शक है. ताजा खबरों के मुताबिक पुलिस ने दो संदिग्‍धों को लेकर पूछताछ करना शुरू किया है और उम्‍मीद है कि जल्‍द ही खुलासा हो जाएगा.

रायपुर जिले के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल ठाकुर ने मंगलवार को बताया कि शहर के टिकरापारा थाना क्षेत्र के अंतर्गत गोदावरी नगर के एक घर में दो बहनों मनीषा सिदार और उसकी बड़ी बहन मंजू सिदार की हत्या कर दी गई. दोनों बहनों की उम्र 20 से 23 वर्ष के बीच है.

एएसपी ठाकुर ने बताया कि पुलिस को आज सुबह गोदावरी नगर के एक घर में युवतियों पर हमला होने की जानकारी मिली थी. सूचना के बाद जब पुलिस घर में पहुंची तब वहां मनीषा और मंजू गंभीर स्थिति में मिली. दोनों बहनों के सिर पर रोटी बनाने के तवा से हमला किया गया था.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस ने तत्काल दोनों बहनों को अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्‍टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. ठाकुर ने बताया कि दोनों युवतियां रायगढ़ जिले की निवासी हैं. वह यहां गोदावरी नगर में किराए के मकान में रह रही थी. मकान से चीखने की आवाज आने पर मकान मालिक वहां पहुंचा और उसने इसकी जानकारी पुलिस को दी.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि मनीषा एक निजी विश्वविद्यालय में नर्सिंग की पढ़ाई कर रही थी. वहीं मंजू नर्सिंग की पढ़ाई पूरी कर चुकी थी. मंजू अपनी बहन से मिलने के लिए आई थी.

उन्होंने बताया कि पुलिस को जानकारी मिली है कि आज सुबह लगभग आठ बजे दो लड़के मनीषा और मंजू के पास पहुंचे थे. लड़के 11 बजे सुबह तक वहां रहे. पुलिस ने कहा कि घटनास्थल को देखने से प्रतीत हो रहा है कि भोजन के दौरान युवतियों और आरोपियों के मध्य विवाद हुआ और इस दौरान तवे से उन्होंने युवतियों की हत्या कर दी.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटनास्थल के करीब लगे सीसीटीवी कैमरे से संदिग्ध आरोपियों की पहचान कर ली गई है.