रायपुर: छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की जीत के बाद राज्य शासन के अधिकारियों ने किसानों की कर्ज माफी की तैयारियां शुरू कर दी हैं. जानकारी के अनुसार, सहकारिता विभाग के उप सचिव पीएस सर्पराज ने संचालक संस्थागत वित्त संयोजक, राज्य स्तरीय बैंकर्स कमेटी और प्रबंध संचालक छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक को पत्र लिखकर किसानों की ऋण माफी योजना के क्रियान्वयन के लिए जानकारी मांगी है.

पत्र में लिखा गया है कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस द्वारा अपने जन घोषणा पत्र में सरकार बनने के 10 दिनों के भीतर किसानों का कर्ज माफ करने की घोषणा की गई है. इस घोषणा की पूर्ति के लिए किसानों की ऋण माफी योजना तैयार की जानी है. अधिकारियों से कहा गया है कि उनके अधीन कार्यरत बैंकों द्वारा किसानों को वितरित कृषि ऋण अवशेष की जानकारी 30 नवंबर की स्थिति के अनुसार उपलब्ध कराएं.

लाखों कांग्रेसियों से ऐप के जरिए उनकी पसंद पूछने के बाद राहुल गांधी आज तय करेंगे कौन बनेगा मुख्यमंत्री

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस ने किसानों का ऋण माफ किए जाने का वादा किया था. वहीं कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने किसानों से वादा किया था कि सरकार बनने के 10 दिनों के भीतर किसानों का ऋण माफ किया जाएगा. कांग्रेस ने इसके साथ ही धान का समर्थन मूल्य 25 सौ रुपए प्रति क्विंटल करने का भी वादा किया है.

छत्तीसगढ़: सीएम रमण सिंह का इस्तीफा, कहा- विधानसभा चुनावों में हार के लिए मैं जिम्मेदार

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 68 तथा भारतीय जनता पार्टी ने 15 सीटों पर जीत हासिल की है. वहीं जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) को पांच सीटें तथा बहुजन समाज पार्टी को दो सीटों पर जीत हासिल हुई है. राज्य में 15 वर्षों के बाद कांग्रेस सत्ता में आ रही है.