Chhattisgarh News:छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल को पुलिस ने आज गिरफ्तार कर लिया गया है. उनपर ब्राह्मणों के खिलाफ कथित अपमानजनक बयान देने का आरोप लगा है. सीएम भूपेश बघेल ने पहले ही कह दिया था कि मेरे पिता हैं तो क्या हुआ, कानून से ऊपर कोई नहीं है. मंगलवार को सीएम के पिता की गिरफ्तारी के बाद उन्हें रायपुर की एक अदालत में पेश किया गया और फिर उन्हें 15 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.Also Read - Chhattisgarh Police SI Recruitment 2021: छत्तीसगढ़ पुलिस में सब इंस्पेक्टर के पदों पर निकली बंपर वैकेंसी, जल्द करें आवेदन, 35000 से अधिक होगी सैलरी

बता दें कि सीएम के पिता नंद कुमार बघेल के खिलाफ सर्व ब्राह्मण समाज ने शिकायत की थी जिसके बाद डीडी नगर पुलिस ने शनिवार देर रात नंद कुमार बघेल के खिलाफ धारा 153-ए (विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना) और 505 (1) (बी) (इरादा) के तहत प्राथमिकी दर्ज की थी. Also Read - Chhattisgarh News: रायपुर में मामूली विवाद के बाद बेटे ने की पिता की हत्या, फरार आरोपी की पुलिस कर रही तलाश

Also Read - VIDEO: नितिन गडकरी का तीखा चुटीला अंदाज-MLA दुखी- मंत्री नहीं बने, मंत्री दुखी- सीएम नहीं बने, सीएम दुखी कि....

ये कह दिया था बघेल के पिता ने…
मुख्यमंत्री के पिता नंद कुमार बघेल ने कहा था, ”मैं भारत के सभी ग्रामीणों से आग्रह कर रहा हूं कि ब्राह्मणों को आपके गांवों में प्रवेश न करने दें. मैं हर दूसरे समुदाय से बात करूंगा ताकि हम उनका बहिष्कार कर सकें. उन्हें वोल्गा नदी के तट पर वापस भेजने की जरूरत है. ब्राह्मण परदेसी हैं, वे विदेशी हैं. जिस तरह से अंग्रेज लोग आए और चले गए, वैसे ही ये ब्राह्मण या तो सुधर जाएं या फिर गंगा से वोल्गा जाने के लिए तैयार हो जाएं.”

भूपेश बघेल ने कहा था-कानून से ऊपर कोई नहीं…
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा था कि कानून से ऊपर कोई नहीं है, भले ही वह व्यक्ति मेरे 86 वर्षीय पिता हों. मेरी सरकार सबके लिए समान रूप से खड़ी है. छत्तीसगढ़ सरकार हर धर्म, संप्रदाय, समुदाय और उनकी भावनाओं का सम्मान करती है. मेरे पिता नंद कुमार बघेल द्वारा एक विशेष समुदाय के खिलाफ टिप्पणी कर सांप्रदायिक शांति भंग की गई है, उनके बयान से मैं भी दुखी हूं.”