रायपुर. अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर छत्तीसगढ़ में सर्वाधिक जगहों पर करीब 60 लाख लोगों ने योगाभ्यास किया है. इस योगाभ्यास को गोल्डन बुक ऑफ वर्ड रिकॉर्ड्स में दर्ज किया गया है. राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों ने यहां बताया कि पांचवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर आज 21 जून को पूरे देश में छत्तीसगढ़ राज्य में सर्वाधिक जगहों पर लोगों द्वारा योगाभ्यास को गोल्डन बुक ऑफ वर्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया गया है. अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर आज राज्य के सभी जिला मुख्यालयों, स्कूलों, महाविद्यालयों, सभी नगरीय निकायों और ग्राम पंचायतों सहित विभिन्न संस्थाओं और स्थलों में विशेषज्ञ योगाचार्यों के नेतृत्व में करीब 60 लाख लोगों द्वारा सामूहिक योगाभ्यास किया गया.

पीएम मोदी ने आधे घंटे तक किया योग, लोगों में दिखा प्रधानमंत्री से मिलने का उत्साह

राजधानी रायपुर के इंडोर स्टेडियम में नगर पालिक निगम रायपुर के महापौर प्रमोद दुबे के मुख्य आतिथ्य में आयोजित सामूहिक योग प्रदर्शन कार्यक्रम में नगर के 600 स्कूली बच्चों के साथ उपस्थित जनप्रतिनिधिगण और वरिष्ठ अधिकारियों ने योगाभ्यास किया. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महापौर दुबे ने कहा कि आज पूरे छत्तीसगढ़ में लोगों ने योगाभ्यास के कार्यक्रम में भाग लिया है और यह गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ है, इसके लिए प्रदेशवासियों को बहुत-बहुत बधाई. दुबे ने कहा कि योग एक विज्ञान है और यही लोगों के स्वस्थ जीवन का आधार है. स्वस्थ और निरोग जीवन जीने के लिए योग बहुत ही महत्वपूर्ण है.

रांची में पीएम मोदी के साथ योग करते दिखे 'मोटू-पतलू'

रांची में पीएम मोदी के साथ योग करते दिखे 'मोटू-पतलू'

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रायपुर दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि पूरे विश्व में योग को स्थापित करने का श्रेय भारत देश है. आज पूरे विश्व के लोग भारत के योग को न केवल स्वीकार कर रहे है बल्कि अपने दैनिक जीवन का हिस्सा बना रहे है. इस अवसर पर गोल्डन बुक ऑफ वर्ड रिकॉर्ड्स के प्रतिनिधि आलोक कुमार ने छत्तीसगढ़ को नए विश्व कीर्तिमान बनाने का प्रोविजनल प्रमाण पत्र महापौर प्रमोद दुबे को प्रदान किया. कुमार ने बताया कि पूरे देश में छत्तीसगढ़ में सर्वाधिक मल्टीपल लोकेशन में लोगों द्वारा योगाभ्यास का वर्ड रिकॉर्ड दर्ज किया गया है, सभी आवश्यक दस्तावेज के साथ करीब एक माह बाद वास्तविक संख्या की घोषणा की जाएगी.