रायपुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में गुरुवार को 11 महिला नक्सली समेत 29 नक्सलियों ने पुलिस के सामने आत्समर्पण कर दिया. सुकमा जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि कोंटा एरिया कमेटी के अंतर्गत सक्रिय रूप से कार्यरत 11 महिला नक्सली समेत 29 नक्सलियों ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है. Also Read - झारखंड में सुरक्षाबलों ने मार गिराए तीन नक्‍सली, AK-47 समेत भारी मात्रा में मिले हथियार

Also Read - छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सलियों के साथ मुठभेड़, CRPF जवान शहीद

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नक्सलियों ने उन्हें बताया है कि उन्होंने क्षेत्र में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत राज्य शासन की पुनर्वास योजना से प्रभावित होकर आत्मसमर्पण करने का फैसला किया है. आत्मसमर्पण करने वाले नक्सली माओवादियों की खोखली विचारधारा तथा उनके शोषण, अत्याचार और भेदभाव से भी तंग आ गए हैं. Also Read - Chhattisgarh: नक्‍सलियों के हमले में 17 जवान शहीद, 14 घायल अस्‍पताल में भर्ती

अधिकारियों ने बताया कि आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों में मड़कम हड़मा मिलिशिया डिप्टी कमांडर है और अन्य नक्सली सहकार कमेटी सदस्य, जनमिलिशिया सदस्य, दंडकारण्य आदिवासी किसान मजदूर संगठन, रेंज कमेटी सदस्य और अन्य नक्सली संगठन में सदस्य के रूप में काम कर रहे थे.

यह भी पढ़ें- नेशनल अवार्ड के लिए चुने गए छत्तीसगढ़ की महिलाओं से जुड़े तीन प्रोजेक्ट

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आत्मसमर्पित नक्सलियों को छत्तीसगढ़ शासन की राहत और पुनर्वास योजना के तहत नियमानुसार सहायता प्रदान की जाएगी. इससे पहले 26 फरवरी को सुकमा में ही 13 नक्सलियों ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया था. इनमें एक लाख रुपये का इनामी नक्सली भी शामिल था.

भाषा इनपुट