नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री चरण दास महंत को सर्वसम्मति से विधानसभा अध्यक्ष चुन लिया गया. राज्य में नयी सरकार के गठन के बाद, विधानसभा में शुक्रवार को प्रथम सत्र के पहले दिन प्रोटेम स्पीकर रामपुकार सिंह ने कांग्रेस के विधायकों, भाजपा के विधायक पुन्नूलाल मोहिले, बहुजन समाज पार्टी और जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के विधायकों को शपथ दिलाई. इस दौरान भाजपा विधायक दल की बैठक होने के कारण भाजपा के अन्य विधायक मौजूद नहीं थे.

छत्तीसगढ : धरमलाल कौशिक भाजपा विधायक दल के नेता चुने गए

विधायकों द्वारा शपथ लेने के बाद सदन में विधानसभा अध्यक्ष का निर्वाचन हुआ. चरण दास महंत को विधानसभा अध्यक्ष चुनने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, कृषि मंत्री रवींद्र चौबे, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के विधायक धर्मजीत सिंह ने प्रस्ताव किया जिसका गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेम साय सिंह टेकाम और जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) की विधायक रेणु जोगी ने समर्थन किया. बाद में चरण दास महंत को सर्व सम्मति से विधानसभा का अध्यक्ष चुन लिया गया.

अमेठी में स्मृति ईरानी ने कहा- कांग्रेस के वकील राम मंदिर पर अदालत की कार्यवाही में डाल रहे बाधा

महंत के अध्यक्ष निर्वाचित होने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, उनके मंत्रिमंडल के सदस्यों, पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह, भाजपा के सदस्यों, पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी और उनकी पार्टी के सदस्यों ने उन्हें शुभकामनाएं दीं. तत्पश्चात महंत ने भाजपा के नवनिर्वाचित सदस्यों को शपथ दिलाई.

2019 में सरकार बनी तो रॉफेल की होगी आपराधिक जांच, दोषियों को मिलेगी सजा: राहुल गांधी

महंत ने इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, उनके मंत्रिमंडल के सदस्यों, पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह, विधायक धर्मजीत सिंह समेत सभी सदस्यों का आभार जताया. उन्होंने छत्तीसगढ़ की जनता का भी आभार जताया. विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि वह विश्वास दिलाते हैं कि आसन सभी से समान व्यवहार करेगा. उन्होंने उम्मीद जताई कि सभी दल राज्य के विकास के लिए मिलकर काम करेंगे. महंत कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं. वह चौथी बार जांजगीर चांपा जिले के सक्ती विधानसभा क्षेत्र से विधायक चुने गए हैं. वह तीन बार लोकसभा के सदस्य भी रहे हैं. महंत संप्रग (द्वितीय) सरकार में मंत्री रहे हैं.