रायपुर: छत्तीसगढ़ में 140 और में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है. राज्य में इस वायरस से संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 3806 हो गई है. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि शुक्रवार को कुल 140 और लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई. इनमें रायपुर जिले से 34, नारायणपुर से 22, दंतेवाड़ा से 17, बिलासपुर से 13, राजनांदगांव और बलौदाबाजार से 10-10, सरगुजा से नौ, रायगढ़ से सात, दुर्ग, बालोद, जांजगीर-चांपा से तीन-तीन, बलरामपुर और कोण्डागांव से दो—दो, कोरबा, बेमेतरा, महासमुंद से एक-एक तथा अन्य राज्य से दो नये मरीज शामिल हैं. मरीजों को अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है. Also Read - फिलहाल बंद रहेंगे स्कूल, अभिभावकों की ली जाएगी राय; शिक्षा मंत्री बोले- गृह मंत्रालय की गाइडलाइंस के अनुसार निर्णय लेंगे

अधिकारियों ने बताया कि आज जिन लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई उनमें दंतेवाड़ा जिले से केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के 14 तथा केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल का एक जवान शामिल है. उन्होंने बताया कि राज्य के दंतेवाड़ा जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सीआरपीएफ के दल को तैनात किया गया है. वहीं जिले के किरंदुल और बचेली में स्थित राष्ट्रीय खनिज विकास निगम की सुरक्षा की जिम्मेदारी सीआईएसएफ के पास है. Also Read - अमित शाह की कोई ताजा कोविड-19 जांच नहीं की गई, मनोज तिवारी ने डिलीट किया अपना ट्वीट

अधिकारियों ने बताया कि आज जांजगीर चांपा जिले के 26 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई है. कोरोना के लक्षण दिखने के बाद उसे रायगढ़ जिले के अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उसकी मृत्यु के बाद उसमें कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि की गई है. Also Read - Coronavirus Cases In India: कोरोना से 24 घंटे में 861 लोगों ने गंवाई जान, 64 हजार से अधिक संक्रमित

उन्होंने बताया कि राजनांदगांव जिले में कर्नाटक राज्य से आए कोरोना संक्रमित एक मरीज की हृदयघात से मौत हो गई है. अधिकारियों ने बताया कि लगभग 30 वर्ष उम्र के इस व्यक्ति की बुधवार को मौत हो गई थी. बाद में उसमें कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि की गई है. उन्होंने बताया कि राज्य में आज 125 मरीजों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दी गई. इनमें 89 वर्षीय एक मरीज भी शामिल है.

रायपुर के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के अधिकारियों ने बताया कि भिलाई के 89 वर्षीय बुजुर्ग को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दी गई. यह छत्तीसगढ़ के सबसे बुजुर्ग कोविड-19 रोगी हैं जिन्होंने कोरोना वायरस से पीड़ित रोगियों को जीवन की एक नई राह दिखाई है.

उन्होंने बताया कि इस पुरुष रोगी को 29 जून को कोविड-19 संक्रमित पाये जाने के बाद दो जुलाई को एम्स में भर्ती किया गया था. चिकित्सकों की निरंतर निगरानी में उनका आईसीएमआर के दिशानिर्देश के अनुसार उपचार किया गया. उनके दो नमूनों ने कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि नहीं होने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि छत्तीसगढ़ में अब तक कोरोना वायरस के परीक्षण के लिए कुल 200006 नमूनों की जांच की गई है. जिनमें से 3806 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि की गई है. वहीं 3028 मरीजों को स्वस्थ्य होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दी गई है तथा 761 मरीजों को इलाज किया जा रहा है. राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमित 17 लोगों की मौत हुई है.