रायपुर: छत्तीसगढ़ में 70 नए लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है. राज्य में इस वायरस से संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 2018 हो गई है. राज्य में शुक्रवार को कोरोना वायरस से संक्रमित हुए लोगों में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सरकारी आवास में सुरक्षा में तैनात छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल का एक जवान और दो चिकित्सक शामिल हैं. Also Read - Covid-19: रूस को पीछे छोड़ दुनिया में कोरोना से तीसरा सबसे ज्यादा प्रभावित देश बना भारत

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि शुक्रवार को राज्य में 70 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि की गई. इनमें जांजगीर-चांपा जिले से 18, सरगुजा से 17, रायपुर से नौ, बलौदाबाजार से आठ, जशपुर से छह, मुंगेली से चार, राजनांदगांव से तीन, बिलासपुर से दो तथा दुर्ग, कोरिया और बलरामपुर जिले से एक-एक मरीज शामिल हैं. Also Read - योगी सरकार ने दी यूपी में बड़े आयोजनों की अनुमति, कोविड प्रोटोकॉल का करना होगा पालन

अधिकारियों ने बताया कि आज जिन लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि की गई है उनमें डाक्टर भीमराव अंबेडकर अस्पताल में पदस्थ एक महिला चिकित्सक समेत दो चिकित्सक शामिल हैं. मुख्यमंत्री निवास के पश्चिमी गेट के बाहर ड्यूटी पर तैनात सीएएफ के प्लाटून कमांडर के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि की गई है. Also Read - दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला-जारी रहेगी बिजली-पानी पर सब्सिडी

राज्य के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने बताया कि कोरोना वायरस से संक्रमित जवान के संपर्क में आए कम से कम 21 अन्य जवानों को पृथक-वास में भेजा गया है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षा बल के इन जवानों के नमूनों की जांच करवाई गई है, तथा इनमें कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई है. लेकिन एहतियात के तौर पर इन्हें पृथक-वास में भेजा गया है.

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि राजनांदगांव जिले में 15 जून को जिस व्यक्ति की मौत हुई थी उसके नमूने में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि की गई है. अधिकारियों ने बताया कि मरीज श्वसन तंत्र की बीमारी से पीड़ित था तथा उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था. राज्य में इस वायरस से संक्रमित 10 लोगों की मौत हुई है.

उन्होंने बताया कि शुक्रवार को 103 लोगों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दी गई है. अधिकारियों ने बताया कि छत्तीसगढ़ में अब तक 120523 व्यक्तियों के नमूनों की जांच की गई है. अभी तक 2018 मरीजों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि की गई है तथा 1305 मरीजों को स्वस्थ्य होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दी गई है. राज्य में 703 मरीजों का इलाज किया जा रहा है तथा 10 मरीजों की मृत्यु हो चुकी है.