जगदलपुर: छत्तीसगढ़ के जगदलपुर केंद्रीय जेल में पदस्थ बिलासपुर के रहने वाले प्रहरी पर आरोप है कि उसने अपने घर के पास ही रहने वाली एक ढाई साल की बच्ची के साथ रेप किया. इस घटना की जानकारी मिलने के बाद जब मासूम बच्ची की मां ने इसका विरोध किया तो आरोपी ने उसके साथ भी छेड़खानी की. मां ने इस घटना की रिपोर्ट करीब 1 माह के बाद अपने पति के वापस आने के बाद जगदलपुर के कोतवाली थाने में दर्ज कराई.

मामले की जानकारी देते हुए जगदलपुर कोतवाली थाना प्रभारी धनंजय सिन्हा ने बताया कि केंद्रीय जेल जगदलपुर में पदस्थ आरोपी चंद्रशेखर अपने घर के पड़ोस में रहने वाले एक बच्चे को खिलाने के नाम पर अपने घर ले गया था, कुछ देर के बाद बच्ची रोते हुए अपने घर पहुंची. जब बच्ची की मां ने उसके रोने का कारण पूछा तो मासूम ने अपने साथ हुए दुर्व्यवहार के बारे में बताया.

अपनी बेटी के साथ हुए इस अनाचार की जानकारी मिलने के बाद महिला आरोपी के घर पहुंची. हद तो तब हो गई जब आरोपी अपनी गलती मानने के बजाय बच्चे की मां के साथ ही छेड़खानी करने लगा. भयभीत महिला अपने घर आ गई.

बताया गया कि महिला के पति के घर में न होने का फायदा उठाते हुए आरोपी ने उसके साथ छेड़खानी की और इस घटना के बारे में किसी को भी बताने पर जान से मारने की धमकी दी. कुछ दिनों बाद जब महिला का पति घर पहुंचा तो उसने अपनी पत्नी के व्यवहार में बदलाव देखा. जब पति ने इसका कारण पूछा तो महिला ने कुछ नहीं बताया, लेकिन बाद में उसने पूरी घटना के बारे में जानकारी दी.

महिला और उसके पति ने इस घटना की रिपोर्ट जगदलपुर कोतवाली थाने में दर्ज कराई, जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. आरोपी के खिलाफ आईपीसी के तहत धारा 4 पास्को 376, 354, 506 मामला दर्ज कर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है.