दंतेवाड़ा/रायपुर: छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में एक इनामी नक्सली कमांडर को मार गिराया. राज्य के नक्सल मामलों के महानिदेशक गिरधारी नायक ने गुरुवार को बताया कि दंतेवाड़ा जिले के किरंदुल थाना क्षेत्र में पेरपा और मरकामिरास गांव के बीच जंगलों में डीआरजी और जिला बल के संयुक्त दल ने नक्सली माड़वी मुइया उर्फ रोशन (29) को मार गिराया. मुइया नक्सलियों के प्लाटून नंबर 24 का कमांडर था. उस पर आठ लाख रुपए का इनाम
था. Also Read - Bank Robbery in Greater Noida: बैंक लूट मे शामिल दो आरोपी गिरफ्तार, चेकिंग के दौरान पुलिस के हत्थे चढ़े बदमाश

इशरत जहां केस: CBI कोर्ट ने पूर्व पुलिस अफसर वंजारा और अमीन को किया आरोपमुक्त Also Read - जम्मू कश्मीर के अनंतनाग जिले में मुठभेड़, सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया

नायक ने बताया कि किरंदुल थाना क्षेत्र में नक्सल विरोधी अभियान में डीआरजी और जिला बल का संयुक्त दल गश्त पर निकला था. दल जब पेरपा और
मरकामिरास गांव के बीच जंगलों में था, तभी नक्सलियों ने उनपर गोलीबारी शुरू कर दी. जवाबी कार्रवाई के साथ हुए संक्षिप्त मुठभेड़ के बाद नक्सली वहां से फरार हो गए. Also Read - जम्मू-कश्मीर के शोपियां में एनकाउंटर, सुरक्षा बलों ने 2 आतंकवादियों को किया ढ़ेर

यहां है यदुवंशी-रघुवंशी के बीच मुकाबला, क्या भाजपा के ‘पायलट’ की होगी सेफ लैंडिंग!

अधिकारी ने बताया कि बाद में पुलिस ने घटनास्थल की तलाशी ली जिसमें एक नक्सली का शव और एक 315 बोर बंदूक बरामद हुई. नायक ने बताया कि
मुइया नक्सलियों के बटालियन नंबर एक का सदस्य रह चुका है. उसके खिलाफ सुकमा जिले के बुरकापाल हमले में शामिल होने का आरोप है.

राज्य के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले के बुरकापाल गांव के करीब 24 अप्रैल साल 2017 को नक्सलियों ने सीआरपीएफ के गश्ती दल पर घात लगाकर हमला किया था. इसमें 25 जवान शहीद हो गए थे.

पीएम मोदी के ‘वंदे मातरम्’ पर नीतीश कुमार की चुप्पी, क्या फिर होगा ‘यू-टर्न’? गर्माई राजनीति