नई दिल्‍ली: ये वीडियो है कांग्रेस नेता राहुल गांधी का, जिसमें वह मंच पर आदिवासियों के साथ नृत्‍य करते हुए दिखाई दे रहे हैं. मंच पर उनके साथ कई मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल समेत कई अन्‍य नेता भी नृत्‍य करते हुए दिखाई दे रहे हैं.

बता दें कि छत्‍तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में छत्तीसगढ़ में पहली बार राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है. इसमें 25 राज्‍यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ छह देशों समेत 1,800 कलाकार इसमें शामिल हो रहे हैं.

रायपुर में तीन दिवसीय इस नृत्य महोत्सव में लगभग 1,800 से ज्‍यादा प्रतिभागी अपनी जनजातीय कला और संस्कृति का प्रदर्शन की प्रस्‍तुति करेंगे. इस महोत्सव में 39 जनजातीय प्रतिभागी दल चार विभिन्न विधाओं में 43 से अधिक नृत्य शैलियों का प्रदर्शन करेंगे.

कांग्रेस सांसद व पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने गांधी रायपुर के सांइस कॉलेज मैदान में राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का उद्घाटन किया. उन्होंने कहा कि इस महोत्सव में हम आदिवासियों का नृत्य देखेंगे. उनके इतिहास को समझने का मौका मिलेगा. लेकिन मैं चाहता हूं कि हम सिर्फ आपका नृत्य ना देखें बल्कि मैं चाहता हूं कि छत्तीसगढ़ की सरकार में, छत्तीसगढ़ को चलाने में आपकी (आदिवासियों की) आवाज सुनाई दे और आपके विचारों को उसमे शामिल किया जाए.

गांधी ने कहा कि आदिवासियों के समक्ष बहुत समस्याएं हैं, लेकिन मैं खुशी से कह रहा हूं कि छत्तीसगढ़ में आदिवासियों की आवाज सरकार में सुनाई दे रही है. तेंदूपत्ते की बात हो, उन्हें जमीन वापस देने की बात हो, कुपोषण से लड़ाई की बात हो, छत्तीसगढ़ की सरकार आपके साथ मिलकर काम कर रही है.

कार्यक्रम के दौरान पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीराकुमार, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, बघेल मंत्रिमंडल के सदस्य, भारत में यूनाइटेड नेशन मिशन की चीफ यूएन रेजिडेंट कोऑर्डिनेटर रेनाटा लोक डेसालियन और राज्य के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे.