रायपुर: पार्टी की प्रदेश इकाई के नये कार्यालय का उद्घाटन करने आए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर जमकर हमला किया. उत्‍तर प्रदेश और बिहार में महिलाओं के साथ रेप की बढ़ती घटनाओं के साथ उन्‍होंने राज्‍य की रमण सिंह सरकार को भी कटघरे में खड़ा किया.Also Read - Covid-19 New Variant Omicron: नए वैरिएंट ने मचाई दहशत, पीएम मोदी की अहम बैठक, सतर्कता बरतने का दिया निर्देश

राहुल ने कहा कि बिहार और उत्‍तर प्रदेश में बच्चियों के साथ दुष्‍कर्म होता है, लेकिन प्रधानमंत्री एक शब्‍द नहीं बोलते. देश की हर महिला के मन में ये सवाल उठ रहे हैं कि बीजेपी शासित राज्‍यों में ही दुष्‍कर्म की घटनाएं क्‍यों हो रही हैं. उन्‍होंने यह भी कहा कि पिछले चार वर्षों में देश में महिलाओं के साथ जो व्‍यवहार हुआ है, वैसा बीते तीन हजार वर्षों में नहीं हुआ. Also Read - Farm Laws Repealed: हरियाणा के सीएम खट्टर ने की पीएम मोदी से मुलाकात, MSP पर कह दी बड़ी बात

Also Read - Constitution Day: संसद और सुप्रीम कोर्ट सहित कई समारोहों में शामिल होंगे पीएम मोदी

राफेल डील की चर्चा करते हुए उन्‍होंने कहा कि मैंने पहले रक्षा मंत्री जी से सवाल किया कि उन्‍होंने देश से झूठ कयों बोला, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला. यही सवाल मैंने पीएम मोदी से किया तो वे मेरी आंख से आंख नहीं मिला पाए. ये हालत ऐसी है क्‍योंकि चौकीदार ही भागीदार बन गया है.

छत्‍तीसगढ़ में भ्रष्‍टाचार पर बोलते हुए राहुल ने कहा कि पनामा पेपर्स में पाकिस्‍तान के तत्‍कालीन प्रधानमंत्री का नाम आया तो उन्‍हें पद छोड़ना पड़ा. जब छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री के बेटे का नाम इसमें आया तो अब तक जांच शुरू भी नहीं हुई. यही बीजेपी की चौकीदारी है.

इससे पहले राहुल ने कांग्रेस के नये कार्यालय का उद्घाटन किया. दो मंजिला कार्यालय का नाम ‘राजीव भवन’ रखा गया है. भवन राजधानी रायपुर के रिहायशी शंकर नगर इलाके में स्थित है. इस अवसर पर कांग्रेस के कोषाध्यक्ष मोतीलाल वोरा, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के छत्तीसगढ़ प्रभारी पी एल पुनिया, प्रदेश पार्टी प्रमुख भूपेश बघेल और विपक्ष के नेता टी एस सिंहदेव एवं अन्य उपस्थित थे. राहुल ने जून 2015 को इस भवन की आधारशीला रखी थी. उस वक्त वह कांग्रेस के उपाध्यक्ष थे.