रायपुर: छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में पुलिस और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में दो पुलिस जवान शहीद हो गए तथा छह घायल हो गये. वहीं, पुलिस ने इस घटना में लगभग 20 नक्सलियों के मारे जाने का दावा किया है. दक्षिण बस्तर क्षेत्र के पुलिस उप महानिरीक्षक सुंदरराज पी ने बताया कि जिले के भेज्जी थाना क्षेत्र के अंतर्गत भेज्जी और एलारमडगु गांव के मध्य जंगल में पुलिस और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में दो सहायक आरक्षक मड़कम हांडा और मुकेश कड़ती शहीद हो गए तथा छह पुलिसकर्मी सालवन राजा, चापा राकेश, शिवराम सोनी, पदम सोयम, रूप सिंह पोयाम और सोढ़ी बच्चा घायल हो गये. Also Read - पुलवामा में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ शुरू, सर्च अभियान जारी

सुंदरराज ने बताया कि भेज्जी थाना क्षेत्र में रविवार को तड़के एसटीएफ और डीआरजी के संयुक्त पुलिस दल को गश्त के लिए रवाना किया गया था. दल जब भेज्जी और एलारमड़गु गांव के मध्य जंगल में था तब नक्सलियों ने पुलिस दल पर गोलीबारी शुरू कर दी. इस घटना में हांडा और कड़ती की मृत्यु हो गई तथा छह पुलिस जवान घायल हो गए. Also Read - जम्‍मू-कश्‍मीर: आर्मी ने एनकाउंटर में जैश-ए-मोहम्‍मद के 2 आतंकवादी मार गिराए

पुलिस अधिकारी ने बताया कि नक्सलियों की गोलीबारी के बाद पुलिस दल ने भी जवाबी कार्रवाई की. पुलिस और नक्सलियों के मध्य लगभग चार घंटे तक गोलीबारी हुई है Also Read - जम्मू-कश्मीर में आर्मी ने LOC पर घुसपैठ कर रहे तीन आतंकियों को मार गिराया


घटना की जानकारी मिलने के बाद क्षेत्र में अतिरिक्त पुलिस बल को रवाना किया गया तथा शवों और घायल जवानों को बाहर निकाला गया. घायल जवानों को बेहतर इलाज के लिए राजधानी रायपुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अधिकारी ने बताया कि घायल जवानों में दो एसटीएफ के तथा चार डीआरजी के जवान शामिल है.

राज्य के नक्सल विरोधी अभियान के विशेष पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी ने बताया है कि पुलिस को सूचना मिली है कि नक्सलियों के मिलिट्री बटालियन नंबर एक ने पुलिस दल हमला किया है. इस घटना में कम से कम 20 नक्सलियों के मारे जाने की संभावना है.

अवस्थी ने बताया कि घटनास्थल में मौजूद जवानों ने मुठभेड़ के दौरान भारी संख्या में नक्सलियों को गोली लगते और गिरते देखा है. हालांकि किसी भी नक्सली का शव बरामद नहीं हुआ है. अधिकारी ने बताया कि क्षेत्र में बड़ी संख्या में सुरक्षा बल के जवानों को नक्सल विरोधी अभियान में भेजा गया है.

सुकमा जिले के भेज्जी थाना क्षेत्र में ही एक अन्य घटना में नक्सलियों ने सड़क निर्माण में लगे वाहनों में आग लगा दी तथा मुंशी की हत्या कर दी है.


पुलिस अधिकारियों ने बताया कि भेज्जी और एलारमड़गु गांव के मध्य सड़क निर्माण का कार्य चल रहा है. नक्सलियों ने यहां मुंशी अनिल कुमार की हत्या कर दी तथा वाहनों में आग लगा दी. पुलिस दल मामले की जांच कर रहा है.

गौरतलब है कि राज्य के नक्सल प्रभावित नारायणपुर जिले के अबूझमाड़ क्षेत्र में पिछले महीने नक्सली हमले में दो पुलिस अधिकारी समेत चार पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे तथा नौ अन्य पुलिसकर्मी घायल हो गए थे.