रायपुर: छत्तीसगढ़ में एक छात्र समेत पांच लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है. राज्य में इस वायरस से संक्रमितों की संख्या बढ़कर अब 100 हो गई है. मुंबई से पहुंचे मजदूर और दिल्‍ली से लौटे छात्र पॉजिटिव निकले. वहींं, राजनांदगांव के डोंगरगांव के एक क्‍वारंटीन केंद्र में रहने वाले एक प्रवासी श्रमिक की सांप द्वारा काट लेने के बाद मौत हो गई. Also Read - महाराष्‍ट्र में कोरोना से आज 85 मौतें के साथ अब तक करीब 2000 मृत, कुल 60 हजार पॉजिटिव केस

छत्तीसगढ़ में अभी तक 100 लोगों में इस वायरस की पुष्टि हुई है, जिनमें से 59 लोगों को इलाज के बाद छुट्टी दी जा चुकी है जबकि 41 मरीजों का इलाज चल रहा है. अधिकारियों ने बताया कि राज्य में अब तक 39010 लोगों के नमूनों की जांच की गई है. इनमें से 100 लोगों में वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है. Also Read - दिल्‍ली एम्स में अभी तक 195 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं, 2 की जान गई

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि प्रदेश के राजनांदगांव और कोरबा जिले में पांच लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है. अधिकारियों ने बताया कि राजनांदगांव जिले में चार मजदूरों में तथा कोरबा जिले के एक छात्र में संक्रमण की पुष्टि हुई है. मजदूर मुंबई से राजनांदगांव पहुंचे थे और वहीं, दूसरी ओर छात्र नई दिल्ली से कोरबा वापस आया था. Also Read - corona virus risk in air travel: स्पाइसजेट के बाद अब एयर एशिया की दिल्ली-कोलकाता फ्लाइट में COVID-19 संदिग्ध, एयरपोर्ट से भेजा गया अस्पताल

अधिकारियों ने बताया कि सभी लोगों को छत्तीसगढ़ वापसी के बाद पृथक-वास में भेजा गया था. उन्होंने बताया​ क उनके नमूनों को जांच के लिए भेजा गया, जिनमें आज कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई. राजनांदगांव के मरीजों को स्थानीय मेडिकल कॉलेज एवं कोरबा जिले के मरीजों को कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

राजनांदगांव के डोंगरगांव के एक क्‍वारंटीन केंद्र में रहने वाले एक प्रवासी श्रमिक की सांप द्वारा काट लेने के बाद मौत हो गई. सीएमएचओ एम चौधरी ने कहा, “हम पीपीएल को बेहतर सुविधाएं प्रदान करने का प्रयास करते हैं, जो अलग-अलग हैं. हम सुनिश्चित करेंगे कि ऐसी कोई घटना दोबारा न हो”.