भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की पत्नी और बॉलीवुड अभिनेत्री अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma) पर किए कमेंट को लेकर आलोचना का शिकार हो रहे पूर्व दिग्गज सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने आखिरकार मामले पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान ने साफ कहा कि उन्होंने कभी भी कोहली के प्रदर्शन के लिए अनुष्का को दोषी नहीं ठहराया और उनके बयान को गलत तरीके से पेश किया जा रहा है।Also Read - BCCI की नई कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट होगी जारी, क्या Ajinkya Rahane और Cheteshwar Pujara बचा पाएंगे अपना ग्रेड

इंडिया टुडे से बातचीत में गावस्कर ने कहा, “पहली बात, मैं ये एक बार फिर से कहना चाहूंगा। मैंने उसे कब दोषी ठहराया? मैं उसे दोषी नहीं कहा रहा था। उस वीडियो में मैंने केवल इतना कहा कि वो विराट को गेंदबाजी करा रही थी। विराट ने लॉकडाउन के दौरान केवल उसकी बॉलिंग ही खेली।” Also Read - Virat Kohli की प्रेस कॉन्फ्रेंस से खुश नहीं थे Sourav Ganguly, देना चाहते थे 'कारण बताओ' नोटिस, लेकिन...

उन्होंने कहा, “वो टेनिस बॉल क्रिकेट थी, एक मजेदार खेल जो लोग लॉकडाउन के दौरान समय बिताने के लिए खेल रहे थे। इतना ही, मैंने विराट की असफलता के लिए उसे कब दोष दिया?” Also Read - IND vs SA Dream11 Team Prediction: भारत vs साउथ अफ्रीका, दूसरे वनडे में यह है ड्रीम XI टीम, Shikhar Dhawan को कप्तानी में दें मौका

पूर्व दिग्गज ने आगे कहा कि वो हमेशा से ही विदेशी दौरों पर खिलाड़ियों की पत्नियों के उनके साथ रहने का समर्थन किया है। उन्होंने कहा, “आप मुझे जानते हैं, मैं वो शख्स हूं जिसने हमेशआ दौरे पर पत्नियों के अपने पति के साथ जाने का समर्थन किया है। 9-5 की नौकरी करने वाला कोई साधारण आदमी जब काम से वापस आता है तो वो अपनी पत्नी के पास ही वापस आता है। उसी तरह से क्रिकेटर जब विदेशी दौरों पर जाते हैं या फिर वो घर पर खेल रहे होते हैं तो उनकी पत्नियां उनके साथ क्यों नहीं रह सकती?”

क्या है मामला

गावस्कर के जिस कमेंट की वजह से विवाद शुरू हुआ, वो उन्होंने 24 सितंबर को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच दुबई में खेले गए मैच के दौरान किया था। साथी कमेंटेटर आकाश चोपड़ा के साथ बातचीत के दौरान गावस्कर ने विराट के बारे में कहा था कि ‘उन्होंने लॉकडाउन में केवल अनुष्का की बॉलिंग की प्रैक्टिस की है’।