भारत और बांग्लादेश (IndiavBangladesh) के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज का आगाज 14 नवंबर से इंदौर में होगा.  भारतीय टीम ने तीन मैचों की टी-20 सीरीज 2-1 से अपने नाम की थी.  ऐसे में मेजबान टीम के हौसले बुलंद है.

विराट कोहली और स्टीव स्मिथ से बाबर आजम की तुलना को लेकर माइकल हसी ने दिया बड़ा बयान

भारतीय टीम मैनेजमेंट ने बंग्लादेश के खिलाफ 22 से 26 नवंबर के बीच ईडन गार्डन्स (Eden Gardnens) में खेले जाने वाले डे-नाइट टेस्ट से पहले मध्य प्रदेश क्रिकेट संघ (एमपीसीए) से विराट कोहली (Virat Kohli) और उनकी टीम के लिए पिंक बॉल (Pink Ball) के साथ रात में ट्रेनिंग कराने का इंतजाम करने की मांग की है.

एमपीसीए के सचिव मिलिंद कानमाडिकर ने इसकी पुष्टि की और बताया कि संघ खिलाड़ियों की मदद करने के लिए पूरी तरह से तैयार है ताकि वह पिंक बॉल से खेलने के लिए अभ्यस्त हो जाएं.

मिलिंद ने कहा, ‘हमसे भारतीय टीम ने अनुरोध कि वह रात में पिंक बॉल के साथ ट्रेनिंग करना चाहते हैं, ताकि बांग्लादेश के खिलाफ होने वाले पहले दिन-रात के मैच के लिए पूरी तरह से तैयार हो सकें.  हम इसका पूरा इंतजाम करेंगे. ‘

Day Night Test: पुजारा बोले- ‘जब दिन ढलेगा और रात होने वाली होगी तब…’

टीम के उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे ने भी माना कि पिंक बॉल के साथ खेलने से पहले ट्रेनिंग बहुत अहम है.

‘बीसीसीआई डॉट टीवी’ ने रहाणे के हवाले से बताया, ‘मैं व्यक्तिगत रूप से बहुत उत्साहित हूं.  यह एक नई चुनौती है.  मुझे नहीं पता कि मैच कैसा होगा, लेकिन हमें ट्रेनिंग सेशन के जरिए इसका आइडिया मिलेगा.  ट्रेनिंग के बाद ही हमें अंदाजा होगा कि पिंक बॉल कितनी स्विंग करती है और हर सत्र में गेंद कैसे काम करती है.  फैन्स के नजरिए से भी यह दिलचस्प होगा. ‘

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि बल्लेबाज के रूप में गेंद लेट स्विंग होगी और एक बल्लेबाज के रूप यह अच्छा होगा कि आप लेट खेलें.  यह मेरा व्यक्तिगत विचार है.  इसके अभ्यस्त होने में ज्यादा तकलीफ नहीं होनी चाहिए.’

(इनपुट-आईएएनएस)