गुरूवार, 14 नवंबर को इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 12वें सीजन का ट्रेड विंडो को शुक्रवार शाम तक बढ़ाने के बाद सभी फ्रेंचाइजी को पांच बजे तक रीटेन खिलाड़ियों की सूची जारी करने का आदेश मिला है। इस बीच आईपीएल की सबसे सफल टीम चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) ने एक ट्वीट के जरिए एक-दो नहीं बल्कि पांच खिलाड़ियों को स्क्वाड से बाहर करने के संकेत दिए।

सीएसके के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ये ट्वीट होने के बाद से ही कयास लगाए जा रहे हैं कि तीन बार ट्रॉफी जीत चुकी ये टीम आखिर किन खिलाड़ियों को स्क्वाड से बाहर करेगी। हमने कुछ ऐसे खिलाड़ियों की सूची तैयार की जिन पर नीलामी से पहले गाज गिर सकती है।

मुरली विजय: चेन्नई टीम के साथ जुड़े भारतीय बल्लेबाज मुरली विजय (Murali Vijay) पिछले दो सीजन से टीम के प्रमुख खिलाड़ियों की सूची से बाहर हैं। दो साल के बैन से वापसी के बाद साल 2018 और 2019 आईपीएल सीजन में विजय ने चेन्नई के लिए मात्र तीन मैच ही खेले हैं। 12वें सीजन के लिए सीएसके विजय को स्क्वाड से बाहर कर युवा खिलाड़ियों का रुख कर सकती है।

मोहित शर्मा: आईपीएल 2020 से पहले जिन खिलाड़ियों को फैंस चेन्नई टीम से बाहर देखना चाहते हैं, उनमें सबसे पहला नाम है तेज गेंदबाज मोहत शर्मा (Mohit Sharma) का। शर्मा ने साल 2014 के आईपीएल सीजन में पर्पल कैप पर कब्जा जरूर किया था लेकिन पिछले कुछ समय से उनका प्रदर्शन खास नहीं रहा है। सीएसके ने 2019 सीजन की नीलामी में शर्मा को 5 करोड़ की राशि में खरीदा था। अगर फ्रेंचाइजी अगामी सीजन से पहले उन्हें रिलीज कर देती है तो नीलामी के लिए सीएसके के पास उपलब्ध राशि में काफी बढ़ोतरी होगी।

विराट कोहली के बाद अश्विन ने भी टेस्ट क्रिकेट के लिए पांच वेन्यू निश्चित जाने का समर्थन किया

शार्दुल ठाकुर: 2018 सीजन में सीएसके लिए 13 मैचों में 16 विकेट लेने वाले शार्दुल (Shardul Thakur) पिछले सीजन खेले 10 मैचों में मात्र 8 विकेट ले सके। साथ ही शार्दुल रन लुटाने के मामले में बल्लेबाजों के पसंदीदा गेंदबाज बनते जा रहे हैं। सीएसके ने शार्दुल को 2,6 करोड़ की राशि में खरीदा था। हालांकि उन्हें रिलीज करने के बाद चेन्नई फ्रेंचाइजी अगर चाहे तो आईपीएल 2020 की नीलामी में उन्हें और कम राशि में स्क्वाड में शामिल कर सकती है।

केदार जाधव: भारतीय टीम के साथ चेन्नई के लिए विस्फोटक बल्लेबाज और पार्ट टाइम गेंदबाज की भूमिका निभाने वाले केदार जाधव (Kedar Jadhav) पिछले सीजन में उम्मीद मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर सके। जाधव ने 14 मैचों में 95.85 के स्ट्राइक रेट और 18 की औसत से मात्र 162 रन बनाए। चेन्नई टीम जाधव की जगह फॉर्म में चल रहे किसी युवा भारतीय बल्लेबाज पर दांव लगा सकती है।

मुंबई टीम में लौटे पृथ्वी शॉ, सैयद मुश्ताक अली टूर्नामेंट में हिस्सा लेंगे

ध्रुव शौरे: दिल्ली के क्रिकेटर ध्रुव शौरे (Dhruv Shorey) आईपीएल में चेन्नई के लिए कभी बड़ी भूमिका में आ नहीं पाए। शौरे को पिछले दो सीजन में केवल दो ही मैच खेलने को मिले, जिनमें उनका प्रदर्शन निराशाजनक रहा। शौरे सीएसके के सेट बल्लेबाजी क्रम में कहीं फिट भी नहीं हो सके, जो कि उन्हें मौके ना मिलने का एक कारण है। ऐसे में उन्हें रिलीज करना सही फैसला होगा।