हैदराबाद टी20 मैच में अर्धशतकीय पारी खेलने वाले केएल राहुल (KL Rahul) का कहना है कि वो फिलहाल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप के बारे में नहीं सोच रहे हैं। राहुल केवल मिल रहे मौकों का पूरा फायदा उठाना चाहते हैं। राहुल वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज में चोटिल शिखर धवन की जगह सलामी बल्लेबाजी की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। उनकी इस पारी के बाद उन्हें स्थाई तौर पर सलामी बल्लेबाजी बनाने की बात की जा रही है।

राहुल ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘अभी टी20 विश्व कप में काफी समय है। मुझे एक बार फिर पारी की शुरूआत करने का मौका मिला है तो मैं इसका पूरा उपयोग करना चाहता हूं। ये अच्छा मैच था और मैं खुलकर खेल सका। उम्मीद है कि अगले साल अक्टूबर के बारे में सोचे बिना ये लय कायम रख सकूंगा।’’

राहुल ने 40 गेंदो पर पांच चौकों और चार छक्कों की मदद से 62 रनों की पारी खेली। इस शीर्ष क्रम बल्लेबाज ने माना कि पिच बल्लेबाजों के लिए मददगार थी लेकिन रन बनाना उतना भी आसान नहीं था। उन्होंने कहा, ‘‘विकेट उतना बुरा नहीं था। दोनों टीमों ने हालांकि 200 से अधिक रन बनाए लेकिन फिर भी विकेट काफी मुश्किल था।’’

BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली का कहना है- एक सीरीज में दो दिन-रात टेस्ट मैच ज्यादा हो जाएगा

राहुल ने कप्तान विराट कोहली के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए शतकीय साझेदारी बनाई। इस साझेदारी के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए कई बार ऐसी साझेदारी जरूरी होती है। हमने संयम के साथ ढीली गेदों का इंतजार किया। क्रीज पर जमने के बाद हम दोनों खुलकर खेले।’’