भारतीय टीम के बाएं हाथ के लेग स्पिनर कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) का कहना है कि सभी खिलाड़ी टीम में महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की कमी महसूस कर रहे हैं। विश्व कप सेमीफाइनल के बाद से टीम इंडिया से बाहर चल रहे धोनी के विकेट के पीछे रहने से गेंदबाजों, खासकर कि स्पिनर्स को काफी मदद मिलती है।Also Read - IND vs WI: आखिर क्‍यों Ravichandran Ashwin हुए वनडे-टी20 टीम से बाहर, सामने आई वजह

टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में इस पर कुलदीप ने कहा, “हम सभी माही भाई को मिस कर रहे हैं। मैं माही भाई का बड़ा फैन हूं। मैं चाहता हूं कि वो जल्द टीम में वापस आएं और खेले। निजी तौर पर मैं चाहता हूं कि उन्हें फिर से भारतीय टीम के लिए खेलना चाहिए।” Also Read - टीम इंडिया के सिलेक्शन पर Aakash Chopra ने उठाए सवाल, बोले- सिर्फ बेंच गर्म करेंगे बहुत सारे खिलाड़ी, पूछा- ये दो खिलाड़ी क्यों गायब!

मैदान पर धोनी के प्रभाव पर कुलदीप ने कहा, “जब भी हम मैदान पर उतरते हैं, माही भाई तुरंत ही कोई सलाह देते हैं और उस सलाह ने मेरे करियर में मेरी बहुत मदद की है। वो एक अच्छे सलाहकार है। वो ऐसे शख्स हैं जो मैच से पहले और बाद में सलाह देने में विश्वास नहीं रखते। वो पहले चीजों का आंकलन करेंगे और फिर मैदान पर ही सलाह देते हैं।” Also Read - IND vs WI: वेस्टइंडीज के खिलाफ भारतीय टीम का ऐलान, Rohit Sharma संभालेंगे कमान, Ravi Bishnoi को 'गोल्डन चांस'

टीम इंडिया के तीन ‘कप्तान’

उन्होंने कहा, “विराट भाई भी वही करते हैं। माही भाई अच्छी सलाह देते हैं औऱ विराट भाई प्रेरित करते हैं। इन दोनों के अलावा रोहित भाई ने कई मौकों पर मेरा मार्गदर्शन किया है। मैं खुशकिस्मत हूं जो विराट, धोनी और रोहित जैसे सीनियर खिलाड़ियों के मार्गदर्शन में खेल रहा हूं।”

युवा खिलाड़ियों का समर्थन करते हैं कोहली

इस दौरान भारतीय स्पिनर ने कहा कि कप्तान विराट कोहली युवा खिलाड़ियों को प्रेरित करने का काम करते हैं। कुलदीप ने कहा, “अगर आप युवा है और आपका कप्तान हर समय मैदान के अंदर और बाहर आपका समर्थन कर रहा है, इससे आपको प्रदर्शन करने की अतिरिक्त प्रेरणा मिलती है। विराट भाई मेरा समर्थन करते हैं। वो मुश्किल स्थिति में मेरा साथ देते हैं।”

उन्होंने कहा, “विराट भाई ऐसे शख्स हैं जिसे पता है कि गेंदबाज को क्या चाहिए। वो आपको बताते हैं कि कहां गेंदबाजी करनी है। वो आपके पास आएंगे और शाबाशी देंगे, मार्गदर्शन करेंगे, आपको परेशानी का हल देंगे और विकेट लेने में मदद करेंगे। इस बात में कोई शक नहीं है कि विराट विश्व स्तर के खिलाड़ी हैं। चाहें बल्लेबाजी, फील्डिंग हो या फैसले लेने की क्षमता। विराट भाई का कोई सानी नहीं।”