बांग्लादेश के खिलाफ इंदौर में खेले जा रहे टेस्ट मैच में भारत की जीत दूसरे दिन ही लगभग पक्की हो गई थी। जिसके बाद भारतीय खिलाड़ियों ने कोलकाता में होने वाले पहले डे-नाइट टेस्ट की तैयारियां शुरू कर दीं। टीम इंडिया के प्रमुख खिलाड़ियों रोहित शर्मा (Rohit Sharma), चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) और रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने शुक्रवार को होल्कर स्टेडियम में शाम को गुलाबी गेंद से अभ्यास किया।

ईडन गार्डन में 22 नवंबर से भारतीय टीम पहली बार दिन रात्रि टेस्ट में खेलेगी। मैच से पहले टीम को दूधिया रोशनी में अभ्यास के लिए सिर्फ दो सेशन मिलेंगे जिसे देखते हुए भारतीय खिलाड़ियों ने इंदौर में समय का सही इस्तेमाल करते हुए अभ्यास किया।

विराट कोहली और शीर्ष क्रम के कुछ बल्लेबाजों ने दो दिन पहले दोपहर में गुलाबी गेंद से थ्रो डाउन पर अभ्यास किया था लेकिन शुक्रवार को टीम के कुछ खिलाड़ियों ने पहली बार दूधिया रोशनी में 35 मिनट तक अभ्यास किया।

IPL 2020: जानें किस टीम के पास बचा है कितना पैसा, किसे चाहिए कितने खिलाड़ी

कोच रवि शास्त्री की देखरेख में रोहित शर्मा ने अश्विन की गेंद पर नेट पर अभ्यास किया। इसके बाद पुजारा और कुलदीप यादव भी अभ्यास के लिए पहुंचे। इस दौरान टीम के रिजर्व बल्लेबाज हनुमा विहारी और शुभमन गिल ने थ्रो डाउन विशेषज्ञ राधवेन्द्र और नुवान सेनेविरत्ने का सामना किया।

रोहित और पुजारा थोड़ी पुरानी गेंद से अश्विन और कुलदीप की गेंदबाजी पर बल्लेबाजी अभ्यास करते देखे गये।।