नई दिल्ली. बात टीम इंडिया के कोच की हो रही है और वीरेंद्र सहवाग शायद यहां भी बॉल को देखो और हिट करो वाले मूड में हैं. अपने दो लाइन के ऐप्लिकेशन में, सहवाग ने लिखा है कि वह किंग्स इलेवन पंजाब के मेंटर हैं और भारतीय टीम के खिलाड़ियों को अच्छे से जानते हैं. सुप्रीम कोर्ट की अपॉइंटेड कमिटी के अधिकारियों को इस ऐप्लिकेशन ने चौंका दिया. क्रिकेटनेक्स्ट से बात करते हुए एक सूत्र ने कहा कि अजीब है और इससे पूर्व क्रिकेटर के गंभीर नहीं होने का भी पता चलता है.Also Read - T20 World Cup में अतिरिक्त तेज गेंदबाज या स्पिनर के साथ खेलना है? इसमें ओस की भूमिका अहम होगी: शास्त्री

सूत्र ने बताया कि यह आश्चर्य में डालने वाला है, आखिर एक प्रोटोकॉल का पालन तो करना ही चाहिए. एक अधिकारी ने कहा, ‘हां, यह अजीब है, मैं यही कहूंगा… इसके आगे मेरे पास कुछ कहने के लिए है भी नहीं. मैं टीम के साथ यात्रा नहीं कर रहा हूं और अपडेट के लिए आपको सीईओ राहुल जौहरी से बात करनी चाहिए.’ Also Read - महान क्रिकेटर से भी बढ़कर, मेरे लिए मेरे भाई हैं MS Dhoni: हार्दिक पांड्या

हकीकत में, अधिकारियों ने यह बताया कि कोच अनिल कुंबले और कप्तान विराट कोहली के बीच समझौता ही इस मामले का सबसे अच्छा संभावित हल हो सकता है. एक अधिकारी ने कहा कि हालांकि बाहर से कुछ भी कहना मुश्किल होगा लेकिन अच्छा यही रहेगा कि कोहली और कुंबले सब भूल जाएं. लेकिन देखते हैं कि क्या ये हो भी पाता है. Also Read - टी20 विश्व कप के लिए भारतीय टीम से जुड़े मेंटोर MS Dhoni; BCCI ने कहा- Welcome to the KING

भारतीय टीम के कोच के लिए सहवाग के अलावा मौजूदा कोच अनिल कुंबले के अलावा लालचंद राजपूत, डोडा गणेश, साउथ अफ्रीका से रिचर्ड पॉयबस और ऑस्ट्रेलिया के टॉम मूडी ने आवदेन किया है. लालचंद राजपूत और टॉम मूडी ने दूसरी बार इस पोस्ट के लिए ओवदन किया है. जब अनिल कुंबले को कोच बनाया गया था, तब भी ये दोनों आवेदन करने वालों में शामिल थे.