आम आदमी पार्टी (AAP) 2022 में 6 राज्यों में विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) लडे़गी. दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने यह घोषणा की. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और गुजरात में अगले दो साल में विधानसभा चुनाव लड़ेगी. केजरीवाल ने दिल्ली में पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक को संबोधित करते हुए AAP की भविष्य की चुनावी योजनाओं की घोषणा की.Also Read - अरविंद केजरीवाल के खिलाफ मुकदमा करेंगे चरणजीत सिंह चन्नी, ये है पूरा मामला

केजरीवाल ने कहा, ‘अन्य पार्टियों का कोई विजन नहीं है और इसलिए वह अतीत की बात कर रही हैं. आम आदमी पार्टी (AAP) एकमात्र ऐसी पार्टी है जो भविष्य की बात कर रही है और उसके पास 21वीं तथा 22वीं शताब्दी का विजन है.’ पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल ने कहा, ‘अगले दो सालों में आम आदमी पार्टी, 6 राज्यों- उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और गुजरात में चुनाव लड़ेगी.’ Also Read - Punjab विधानसभा चुनाव पर Zee Opinion Poll की खास बातें, किस पार्टी को कितनी सीटें? कौन सबसे पसंदीदा सीएम, जानें सबकुछ

Also Read - Zee Opinion Poll 2022: पंजाब में त्रिशंकु विधानसभा के आसार! AAP हो सकती है सबसे बड़ी पार्टी, SAD को बड़ा फायदा

उन्होंने कहा, ‘मैं पार्टी के सदस्यों से आग्रह करता हूं कि वे देशभर में पार्टी को मजबूत करें. संगठन को बड़े स्तर पर मजबूत करना होगा. देश हमारे लिए महत्वपूर्ण है और आम आदमी पार्टी इसे चलाएगी और हमें पार्टी के विकास के लिए काम करने की जरूरत है.’

केजरीवाल ने कहा कि, ‘मैं देश भर में पार्टी के जमीनी स्तर पर पकड़ मजबूत करने के लिए पार्टी सदस्यों से आग्रह करता हूं. संगठन को बहुत बड़े पैमाने पर मजबूत करना होगा. उन्होंने कहा कि देश हमारे लिए महत्वपूर्ण है और AAP वाहन है और हमें पार्टी के विकास की दिशा में काम करने की जरूरत है.

बैठक के दौरान, केजरीवाल ने 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान भड़की हिंसा के बारे में भी दुख व्यक्त किया. ‘कल की घटना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण थी. किसी भी राजनीतिक दल या उसमें शामिल व्यक्ति को सख्त से सख्त सजा दी जानी चाहिए. हम सभी को शांति से किसानों के कारण का समर्थन करना होगा.’