अरविंद केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं से कहा- 'AAP' के लिए चुनाव प्रचार करना देशभक्ति की बात, इसलिए जुट जाएं

अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने अपने कार्यकतार्ओं से कहा है कि वो अगले 1 महीने तक सभी कामों से छुट्टी लेकर चुनाव प्रचार में जुट जाएं.

Updated: January 9, 2022 5:32 PM IST

By India.com Hindi News Desk | Edited by Zeeshan Akhtar

Delhi guest teachers salary arvind kejriwal

Assembly Elections 2022: पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और उत्तर प्रदेश समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव (Vidhansabha Chunav 2022) की घोषणा की जा चुकी है. अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने अपने कार्यकतार्ओं से कहा है कि वो अगले 1 महीने तक सभी कामों से छुट्टी लेकर चुनाव प्रचार में जुट जाएं. हर चुनावी राज्य में प्रत्येक बूथ पर हमें कम से कम 10 कार्यकतार्ओं की टीम बनानी है. अरविंद केजरीवाल ने अपने कार्यकतार्ओं से कहा कि आप जब चुनाव प्रचार के लिए निकलो तो इस इस भाव से निकलना कि देश में एक बड़े परिवर्तन के लिए काम कर रहे हो. आप चुनाव प्रचार नहीं, देशभक्ति का काम कर रहे हो.

Also Read:

दिल्ली के मुख्यमंत्री व आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने सोशल मीडिया (Social Media) पर भी विशेष जोर दिया. उन्होंने कहा, “इस बार डिजिटल मीडिया और सोशल मीडिया की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण होने वाली है. आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के कार्यकर्ता सोशल मीडिया के इस्तेमाल में मास्टर हैं. आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता सोशल मीडिया पर खूब एक्टिव रहते हैं, अब समय आ गया है कि हम लोग अपनी इस ताकत का इस्तेमाल करें. हम लोग सोशल मीडिया के माध्यम से हर वोटर हर घर तक पहुंचना है.”

अरविंद केजरीवाल ने देशभर के अपने कार्यकतार्ओं को संबोधित करते हुए कहा, “चुनाव आयोग ने पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव की घोषणा कर दी है आम आदमी पार्टी के लिए चुनाव सत्ता पाने का एक साधन नहीं है. हमें सिस्टम बदलना है पूरा का पूरा सिस्टम बदलना होगा. आम आदमी पार्टी के लिए चुनाव देश और समाज में परिवर्तन करने का एक जरिया है बदलाव लाने का एक मौका है.” इस चुनाव के जरिए आपका मकसद एक पार्टी बदल कर दूसरी पार्टी को सत्ता में लाना नहीं है बल्कि भ्रष्ट व्यवस्था को उखाड़ कर एक ईमानदार व्यवस्था को लागू करना है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि आज तक हमें यह बताया गया है कि सरकारी स्कूल सही नहीं हो सकते. इन्हें कॉरपोरेट सेक्टर को देना चाहिए लेकिन आम आदमी पार्टी ने यह साबित करके दिखाया कि सरकारी स्कूल अच्छे बन सकते हैं और गरीब बच्चों को अच्छी शिक्षा दी जा सकती है. अरविंद केजरीवाल ने अपने कार्यकतार्ओं को संबोधित करते हुए कहा कि बदलाव संभव है लेकिन इसके लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी. हमारे सामने बड़ी चुनौतियां हैं आम आदमी पार्टी का एक-एक कार्यकर्ता यह कसम खाए कि जब तक देश से भ्रष्ट व्यवस्था को उखाड़ नहीं देते तब तक चैन नहीं लेंगे.

कोरोना के चलते चुनाव प्रचार पर कई प्रकार की पाबंदियां है लेकिन डोर टू डोर चुनाव प्रचार की अनुमति है. केजरीवाल ने कहा कि इसलिए कार्यकर्ता आज से ही डोर टू डोर चुनाव प्रचार शुरू कर दें. कार्यकर्ता जब भी किसी के घर जाए तो सबसे पहले उनका हालचाल पूछे, किसी को कोई बीमारी तो नहीं है. अगर उन्हें किसी चीज की जरूरत है तो पहले उनकी मदद करें फिर उन्हें बताएं कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार ने क्या-क्या अच्छे काम किए हैं. कैसे दिल्ली में स्कूल सड़क बिजली पानी के क्षेत्र में काम किए गए हैं.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी के कार्यकतार्ओं को संबोधित करते हुए कहा कि हमें किसी पार्टी या उसके नेताओं को अपशब्द नहीं कहना है. केजरीवाल ने कार्यकतार्ओं से कहा कि आप से यदि कोई पूछे कि आम आदमी पार्टी सब चीज फ्री फ्री क्यों करती रहती है तो आप उनसे कहना पूछना क्या यह सरकार का फर्ज नहीं है कि गरीब के बच्चों को भी अच्छी और मुफ्त शिक्षा मिले. क्या यह हर नागरिक का अधिकार नहीं है कि उसे अच्छे से अच्छा इलाज निशुल्क मिले? आज सरकार का मतलब हो गया है कि मंत्रियों और विधायकों को सारी सुविधाएं निशुल्क मिले और जनता दर दर की ठोकरें खाते रहे.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें दिल्ली की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 9, 2022 5:31 PM IST

Updated Date: January 9, 2022 5:32 PM IST