Free Ayodhya Darshan : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) ने मंगलवार को ऐलान किया कि उनकी सरकार ‘मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना’ (Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana) के तहत अब दिल्लीवासियों को अयोध्या के भी नि:शुल्क दर्शन (Free Ayodhya Darshan) कराएगी.Also Read - Delhi Me Sasta Ho Gaya Petrol: केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला-सबसे सस्ता दिल्ली में मिलेगा पेट्रोल, जानिए कितने कम हुए दाम

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने मंगलवार को अयोध्या के प्रसिद्ध हनुमानगढ़ी मंदिर (Hanumangarhi Temple) और राम जन्मभूमि स्थल जाकर दर्शन किए. मंदिर में पूजा-अर्चना करने के बाद केजरीवाल ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘दिल्ली में हम मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना चला रहे हैं. इसके तहत हम दिल्ली के लोगों को वैष्णो देवी (Mata Vaishno Devi), रामेश्वरम (Rameshwaram), द्वारकापुरी (Dwarakapuri), हरिद्वार (Haridwar), ऋषिकेश (Rishikesh), मथुरा (Mathura) और वृंदावन (Vrindavan) समेत विभिन्न तीर्थ स्थलों की नि:शुल्क यात्रा कराते हैं. अब हम दिल्लीवासियों को अयोध्या के भी मुफ्त दर्शन कराएंगे.’’ Also Read - Alert in Mathura: ईदगाह में जलाभिषेक के ऐलान पर मथुरा में अलर्ट, प्रशासन ने कहा- किसी को घुसने की अनुमति नहीं

केजरीवाल ने कहा कि इस सिलसिले में बुधवार को दिल्ली सरकार की विशेष कैबिनेट बैठक होगी, जिसमें इस फैसले पर मुहर लगाई जाएगी. उन्होंने कहा, ‘‘अब दिल्ली के लोग भी राम जन्मभूमि अयोध्या (Ram Janmbhoomi Ayodhya) के दर्शन कर सकेंगे. तीर्थ यात्रा योजना के तहत दिल्लीवासियों को एसी ट्रेन से ले जाकर तीर्थ स्थलों पर एसी होटलों में ठहराया जाता है. इसका पूरा खर्च दिल्ली सरकार उठाती है.’’ Also Read - Mathura: वृन्दावन के बांके बिहारी मंदिर में 'जबरन' चंदन-टीका लगाने पर रोक, प्रतिष्ठा को पहुंचती है ठेस, इसलिए...

इस सवाल पर कि क्या उन्होंने राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा दिया है, केजरीवाल ने कहा, ‘‘मैंने भी राम मंदिर के लिए चंदा दिया है, लेकिन दान को हमेशा गोपनीय रखा जाना चाहिए.’’

केजरीवाल ने कहा, ‘‘मैंने भगवान राम से प्रार्थना की है कि देश के सभी लोग खुशहाल जिंदगी जिएं, कोविड-19 महामारी का अंत हो और आने वाले समय में देश में सही मायनों में विकास नजर आए. मैं सौभाग्यशाली हूं कि मुझे रामलला के आगे शीश नवाने का मौका मिला. मैं दुआ करता हूं कि हर किसी को यह अवसर मिले.’’ (इनपुट – पीटीआई)