Coronavirus In Delhi Update: दिल्ली में कोरोनावायरस का खतरा बढ़ता जा रहा है. मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी है. अब खबर आई है कि लोधी कालोनी स्थित दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल में एक हवलदार कोरोना पॉजिटिव मिला, जिसके बाद एहतियातन 65 से ज्यादा अफसर और जवानों ने खुद को सेल्फ क्वारंटीन कर लिया है. Also Read - यूपी सरकार ने शॉपिंग मॉल खोलने को लेकर जारी किए दिशानिर्देश, मास्क के बिना अनुमति नहीं

125 से ज्यादा अफसरों और जवानों का कोरोना टेस्ट के लिए नमूना भेजा गया है. फिलहाल रिपोर्ट आने में 72 घंटे का वक्त लगेगा. पता लगाया जा रहा है कि संक्रमित मिलने वाला हवलदार बीते दिनों कहां-कहां गया था. Also Read - Goggle Mask: कोरोना को देने मात, लखनऊ दंपति ने बनाया 'गॉगल मास्क'

छानबीन में पता चला है कि उक्त हवलदार रोजाना 25-30 स्टाफ और अफसरों के सीधे संपर्क में था. फिलहाल 65 अफसरों और जवानों को उनकी कोरोना जांच रिपोर्ट आने तक इसी हाल में वक्त गुजारना पड़ेगा. Also Read - सन फार्मा ने शुरू किया इस दवा के दूसरे चरण का क्लिनिकल ट्रायल, 210 मरीजों पर होगा टेस्ट 

क्वारंटीन केंद्रों से 36 लोग गायब, तलाश में पुलिस
दिल्ली के दो अलग-अलग इलाकों में क्वारंटीन करके रखे गये कोरोना संदिग्धों में 35 से ज्यादा संदिग्ध हालात में गायब हो गये. इनकी खोज जारी है. इसके लिए राष्ट्रीय राजधानी से जुड़े सीमांत राज्यों की जिला पुलिस को भी अलर्ट कर दिया गया है. दिल्ली पुलिस ने भी इन संदिग्धों की तलाश के लिए कई टीमें गठित कर दी हैं.

दिल्ली पुलिस सूत्रों के मुताबिक ये घटनाएं, ढका स्थित नगर निगम स्कूल (मुखर्जी नगर) और मॉडल टाउन स्थित आजादपुर कालोनी की हैं. मॉडल टाउन थाना क्षेत्र के आजादपुर कॉलोनी में 15 अप्रैल को 100 से ज्यादा कोरोना संदिग्धों को दाखिल करवाया गया था. मंगलवार की रात में किसी वक्त यहां से तीन-चार लोग गायब हो गये. जैसे ही मामले का पता चला वैसे ही सेंटर प्रभारी की तरफ से पुलिस को शिकायत दी गयी.

दूसरी घटना मुखर्जी नगर इलाके के ढका सेंटर की बताई जाती है. यहां 16 अप्रैल के आसपास 125 से ज्यादा लोगों को दाखिल कराया गया था. यहां से सोमवार को रात में किसी वक्त मौका मिलने पर 30 से ज्यादा कोरोना संदिग्धों के रहस्यमय हालातों में गायब हो जाने का पता चला. इस घटना की सूचना भी सेंटर प्रभारी द्वारा संबंधित थाने को दी गयी.

दिल्ली पुलिस सूत्रों के मुताबिक, रहस्यमय हालातों में गायब हुए कोरोना संदिग्धों में कुछ नेपाली मूल के भी शामिल होने का पता चला है. सभी की तलाश की जा रही है. जांच इस बात की भी की जा रही है कि, आखिर यह सब भागे क्यों? इन्हें भगाने में किसी अंदरुनी शख्स ने ही तो मदद नहीं की.
(एजेंसी से इनपुट)