नई दिल्ली: मई में पार्टी के संगठनात्मक चुनावों से पहले, दिल्ली कांग्रेस ने मांग की है कि राहुल गांधी को दोबारा पार्टी अध्यक्ष नियुक्त किया जाय. इसको लेकर दिल्ली कांग्रेस ने रविवार को एक प्रस्ताव पारित किया है. दिल्ली कांग्रेस के प्रमुख चौधरी अनिल कुमार ने प्रस्ताव पेश किया, जिसमें राहुल गांधी से जल्द से जल्द कांग्रेस के अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभालने का अनुरोध किया गया.Also Read - जानिए क्या है Teleprompter और कैसे करता है काम? जिसे लेकर राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कसा तंज

उन्होंने कहा, देश में खराब राजनीतिक माहौल के मद्देनजर, कांग्रेस को सांप्रदायिक, सत्तावादी और अलोकतांत्रिक ताकतों का मुकाबला करने के लिए, राहुल गांधी जैसे एक ऊर्जावान और शक्तिशाली नेता की आवश्यकता है ताकि देश को विनाश के रास्ते पर जाने से बचाया जा सके. Also Read - Viral Video: "वो कत्ल भी करते हैं तो चर्चा नहीं होती, हम...", वैक्सीन बर्बादी के आरोपों पर झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री का शायराना जवाब- देखें वीडियो

प्रस्ताव में कहा गया है कि राहुल गांधी मोदी सरकार के खराब कार्यो का पदार्फाश करने के लिए लड़ाई लड़ रहे हैं, और कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में कार्य करते हुए वो कार्यकर्ताओं में नया जोश और आत्मविश्वास भर देंगे. Also Read - Goa Election 2022: गोवा में कांग्रेस, NCP और शिवसेना अलग-अलग लड़ेंगी चुनाव, गठबंधन पर नहीं बनी बात

कांग्रेस के दो अन्य प्रस्तावों में दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर रैली और उसके बाद हुई हिंसा रोकने में नाकामयाब रहने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के इस्तीफे की मांग की गई.

प्रस्ताव में कहा गया है कि राहुल गांधी के नेतृत्व वाली कांग्रेस ने संसद के अंदर और बाहर किसान विरोधी कानूनों का जबरदस्त विरोध किया है और देश में कृषि क्षेत्र को बर्बाद करने वाले कानूनों को निरस्त करने की मांग को लेकर किसानों के आंदोलन का समर्थन किया है,क्योंकि कानूनों का उद्देश्य मोदी सरकार के कुछ अमीर कॉपोर्रेट मित्रों को लाभ पहुंचाना है.

(इनपुट आईएएनएस)