Firecrackers Ban in Delhi: बीते साल की तरह देश की राजधानी दिल्ली में इस साल भी पटाखों की खरीद, बिक्री, भंडारण और उपयोग बैन रहेगा. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर यह जानकारी दी. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवल (Arvind Kejriwal) ने ट्वीट किया, ‘पिछले तीन साल से दीपावली के समय दिल्ली में प्रदूषण के खतरनाक स्तर को देखते हुए पिछले साल की तरह इस बार भी हर प्रकार के पटाखों के भंडारण, बिक्री एवं उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया जा रहा है, जिससे लोगों की जिंदगी बचाई जा सके.’Also Read - Delhi Corona Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना से एक शख्स की मौत, संक्रमण के 33 नए मामले आए सामने

उन्होंने लिखा, ‘पिछले साल व्यापारियों द्वारा पटाखों के भंडारण के पश्चात, प्रदूषण की गंभीरता को देखते हुए देर से पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया, जिससे व्यापारियों को नुकसान हुआ था. सभी व्यापारियों से अपील है कि इस बार पूर्ण प्रतिबंध को देखते हुए किसी भी तरह का भंडारण न करें.’ Also Read - UP Polls 2022: मनीष सिसोदिया का बड़ा ऐलान- 'यूपी में AAP की बनी सरकार तो 24 घंटे के अंदर 300 यूनिट फ्री बिजली'

Also Read - Delhi Corona Update: दिल्ली में फिर बढ़े एक्टिव केस, बीते 24 घंटे में 38 नए मामले; आज भी नहीं गई किसी की जान...

मालूम हो कि दिल्ली सरकार ने हर साल दीपावली के दौरान शहर में प्रदूषण के खतरनाक स्तर तक पहुंच जाने के मद्देनजर यह फैसला लिया है. हाल ही में केजरीवाल ने कहा था कि अक्टूबर में पड़ोसी राज्यों द्वारा पराली जलाना दिल्ली में वायु प्रदूषण के उच्च स्तर के पीछे एक प्रमुख कारक है. केजरीवाल ने कहा था, ‘किसानों की गलती नहीं है. सरकारों की गलती है, क्योंकि उन्हें समाधान पेश करना था.’ उन्होंने कहा कि दिल्ली के पास समस्या का एक समाधान है.

उन्होंने कहा, ‘हम केंद्र से अपील करते हैं कि वह राज्यों से कहे कि वे किसानों को पराली जलाने से रोकने के लिए बायो-डिकंपोजर मुफ्त में बांटें. केजरीवाल ने कहा कि वह ऑडिट रिपोर्ट के साथ केंद्रीय पर्यावरण मंत्री से मुलाकात करेंगे और मामले में उनके निजी हस्तक्षेप का अनुरोध करेंगे.

(इनपुट: भाषा)