Delhi Night Curfew News: देश में कोरोना का कहर जारी है. भारत में कोविड-19 (Covid-19) से अब तक 95 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं और 1 लाख 38 हजार से ज्यादा की जान जा चुकी है. इस बीच देश की राजधानी दिल्ली सहित कई राज्यों में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. कई राज्यों ने कोरोना से बचाव के लिए अपने राज्यों में ऐहतियाती कदम उठाए हैं. इनमें नाइट कर्फ्यू समेत कई प्रतिबंध शामिल हैं. Also Read - Guest Teacher News: मेरिट के आधार पर सहायता प्राप्त स्कूलों में होगी अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति, जानें क्या है सरकार का नया फैसला...

इस बीच दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार (Arvind Kejriwal) ने गुरुवार को साफ कर दिया कि राजधानी में नाइट कर्फ्यू नहीं लगाया जाएगा. दिल्ली की AAP सरकार ने गुरुवार को दिल्ली हाईकोर्ट को बताया कि कोविड-19 महामारी (Covid-19 Pandemic) रोकथाम के लिए फिलहाल राष्ट्रीय राजधानी या इसके हिस्सों में कर्फ्यू नहीं लगाया जाएगा. Also Read - AAP विधायक सोमनाथ भारती को 2 साल की सजा, मारपीट मामले में कोर्ट ने सुनाई सजा

दिल्ली सरकार ने न्यायमूर्ति हिमा कोहली और न्यायमूर्ति सुब्रह्मण्यम प्रसाद की पीठ को इस बारे में जानकारी दी. अदालत ने 26 नवंबर को पूछा था कि क्या कोविड-19 से निपटने के लिए शहर में रात में कर्फ्यू लगाया जा सकता है, जैसा कि कई अन्य राज्यों ने किया है? दिल्ली सरकार ने अपनी स्थिति रिपोर्ट में बताया कि सरकार ने 31 दिसंबर तक मंजूरी दी जाने वाली गतिविधियों और प्रतिबंधित गतिविधियों के संबंध में पहले से जारी आदेशों की ही यथास्थिति बनाए रखने संबंधी आदेश जारी किए हैं. Also Read - The White Tiger on Netflix: Priyanka Chopra की फिल्म पर रोक लगाने से दिल्ली HC का इनकार, समझ नहीं आया...

रिपोर्ट में कहा गया, ‘इसलिए 31 दिसंबर तक किसी भी नई गतिविधि को मंजूरी नहीं दी जा सकती है.’ अदालत द्वारा जारी निर्देश और सलाह वकील राकेश मल्होत्रा की राष्ट्रीय राजधानी में जांच बढ़ाने और तेजी से परिणाम देने को लेकर दायर की गई एक याचिका की सुनवाई के दौरान आई है.

(इनपुट: भाषा)